ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

हिंदू राष्ट्रवादी संगठन भारत में धार्मिक आज़ादी का खुलेआम उल्लंघन कर रहे हैंः रिपोर्ट

नई दिल्ली।भारत में धार्मिक आज़ादी को लेकर छिड़ी बहस के बीच एससीआईआरएफ (United State commission on international religious freedom) ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि भारत के 29 में से 10 राज्यों में धार्मिक आज़ादी का खुलेआम उल्लंघन किया जा रहा है।

यूएससीआईआरएफ ने 2017 की अपनी वार्षिक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा करते हुए हिंदू राष्ट्रवादी संगठनों को इसके लिए ज़िम्मेदार ठहराया है। यूएससीआईआरएफ ने धार्मिक आज़ादी के मामले में भारत को अफग़ानिस्तान, मिस्र, तुर्की, इराक़ और कज़ाकिस्तान के साथ रखा है।

यूएससीआईआरएफ की इस रिपोर्ट में न सिर्फ अल्पसंख्यकों व दलितों की हालत भी चिंताजनक बताई गई है। रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ (आरएसएस) और विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) ने अल्पसंख्यकों और हिंदू दलितों के खिलाफ हिंसक घटनाओं को बढ़ावा दिया है।

रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि ग़ैर सरकारी संगठनों के फंड को घटाकर धर्म परिवर्तन और गौरक्षा जैसे मदों में इस्तेमाल किया जा रहा है। रिपोर्ट में जिन 10 राज्यों की हालत चिंताजनक बताई गई है, उनमें यूपी, बिहार, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, ओडिशा, कर्नाटक और राजस्थान हैं।

बता दें कि ये संस्था दुनिया में धार्मिक आजादी का उल्लंघन करने वालों की निगरानी के लिए अंतररराष्ट्रीय मानकों का प्रयोग करती है।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved