ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

50 आईआईटी प्रोफेशनल्स ने नौकरी छोड़ SC/ST, OBC के हित के लिए बनाई भारत आजाद पार्टी

देश के विभिन्न आईआईटी के 50 पूर्व छात्रों ने नौकरी को छोड़कर राजनीतिक पार्टी का गठन किया है। बहुजन आजाद पार्टी के नाम से गठित इस राजनीतिक दल का मकसद अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए संघर्ष करना है।

पार्टी के नेतृत्व करने वाले नवीन कुमार ने बताया कि हम सभी 50 साथी अलग अलग आईआईटी के है। जो कि अपनी नौकरी छोड़कर पार्टी के लिए काम कर रहे हैं। फिलहाल अभी बहुजन आजाद पार्टी को चुनाव आयोग से मंजूरी नहीं मिली है। लेकिन मंजूरी के लिए चुनाव आयोग के पास आवेदन किया गया है।

2019 लोकसभा लक्ष्य नहीं
नवीन बताते हैं कि उनकी पार्टी बड़ी सोच वाली छोटी पार्टी बनकर नहीं रहना चाहती। इसी के साथ उन्होंने 2019 लोकसभा चुनाव लड़ने से भी इंकार किया है। उनका कहना है कि हम जल्दबाजी में कोई कदम न उठाते हुए 2020 बिहार विधानसभा चुनाव से अपनी किस्मत आजमाएंगे। जिसके बाद 2024 में लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे।

नवीन के अनुसार पार्टी में ज्यादातर लोग एससी, एसटी और ओबीसी समुदाय के हैं। जिनका मानना है कि शिक्षा और रोजगार के क्षेत्र में पिछड़े वर्ग के लोगों को उनका वाजिब हक नहीं मिल रहा है।

अंबेडकर, बोस व कलाम रहेंगे पार्टी के आदर्श
पार्टी का नाम बहुजन आजाद पार्टी रखने के साथ इसका सोशल मीडिया में प्रचार भी शुरू हो चुका है। पार्टी के बैनर-पोस्टर में बीआर अंबेडकर, सुभाष चंद्र बोस, एपीजे अब्दुल कलाम व अन्य के फोटो हैं।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved