ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

मोदी जी के गुजरात मॉडल में कथित सवर्णों को रास नहीं आईं दलित की रौबीली मूंछ

अहमदाबाद. आजादी को 70 साल हो चुके हैं लेकिन कथित सवर्णों के दिलोदिमाग में दलितों के प्रति जो नफरत और गंदगी भरी पड़ी है शायद उसके लिए एक और आजादी की लड़ाई की जरूरत है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिस गुजरात मॉडल का हवाला देकर सत्ता में आए उस गुजरात में जातीय नफरत किस तरह लोगों के दिमाग में भरी हुई है उसका नजारा एक बार फिर देखने को मिला है. इससे पहले आप ऊना कांड को तो जानते ही होंगे. गुजरात के साबरकांठा जिले के इडार तालुका में ठाकुर समुदाय के आठ युवकों ने जबर्दस्ती एक दलित युवक की मूंछ मुड़वा दी और उसके साथ मारपीट की. गोरल गांव में हुई घटना को लेकर साबरकांठा पुलिस ने आठों युवकों के खिलाफ एससीएसटी ऐक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है.

सोशल वर्क में पोस्ट गैजुएशन कर रहे दलित युवक की पहचान 23 वर्षीय अल्पेश पांड्या के रूप में हुई, जिसके साथ रौबीली मूंछ के चलते मारपीट हुई और उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा. पिछले साल अक्टूबर में दो दलित युवकों को भी गुजरात के ही लिंबोदरा और गांधीनगर में मारपीट और भेदभाव का सामना करना पड़ा था.

बुरी तरह पिटाई भी की
एफआईआर के मुताबिक पांड्या अपने दो दोस्तों के साथ बाइक से मंदिर जा रहा था, तभी रास्ते में ठाकुर समुदाय के युवकों ने उनका रास्ता रोक लिया और उन्हें गाली देना शुरू कर दिया. लाठी-डंडों और लोहे की छड़ों से लैस युवकों ने उससे कहा कि वह ऐसी रौबीली मूंछ कैसे रख सकता है. इतने में कुछ युवक आगे आए और उसे डंडों से पीटने लगे. पांड्या ने भागने की कोशिश की तो आरोपी युवक उसे पास के एक घर में घसीटकर ले गए और उसकी मूंछें रेजर से मूड़ दीं.

पांड्या ने कहा, ‘मुझे बेरहमी से पीटा गया और मेरी मूंछ हटा दी गईं क्योंकि मैं दलित हूं.’ पांड्या ने कहा कि मेरी गांव में किसी से कोई दुश्मनी नहीं है और न ही ठाकुर समुदाय के किसी व्यक्ति से कभी झगड़ा किया. उन्होंने बताया, ‘मैं दो साल से मूंछ बढ़ा रहा था लेकिन अब मेरे मूंछ पर ताव देने और चश्मा लगाकर गांव में घूमने से उन्हें दिक्कत होने लगी. मेरे माता-पिता को भी मेरी मूंछ के लिए मारा-पीटा गया.’

पुलिस थाने में मामला दर्ज
वहीं गांव की सरपंच जयंती पटेल ने कहा, ‘पंड्या गुरु ब्राह्मण है जो एक दलित उपजाति है. उसकी करीब 20 दिन पहले ठाकुर समुदाय की एक लड़की से लड़ाई हुई थी, हो सकता है अब हुई घटना के पीछे यह वजह हो. फिलहाल गांव की स्थिति सामान्य है.’ पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है और जांच कर रही है.

साभार- नवभारत टाइम्स

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved