ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

गौरी लंकेश मर्डर केस में एसआईटी को मिले कुछ सुराग- कर्नाटक के गृहमंत्री

gauri-lankesh

बेंगलुरु। कर्नाटक के गृह मंत्री रामलिंगा रेड्डी ने दावा किया है कि पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या मामले में सुराग मिला है। शनिवार को उन्होने बताया कि एसआइटी को मामले से संबंधित सुराग मिले हैं। राज्य सरकार ने आइजी (गुप्तचर) बीके सिंह के नेतृत्व में 21 सदस्यीय एसआइटी का गठन किया है।

गृह मंत्री ने कहा कि जांच जारी है और सुराग के संबंध में विस्तृत जानकारी वह नहीं दे सकते हैं। दूसरी तरफ गौरी लंकेश के परिवार के लागों ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दरमैया से मुलाकात की। मुख्यमंत्री आवास पर हुई मुलाकात में परिवार ने हत्या की जांच के बारे में पूछताछ की।

मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, ‘गौरी लंकेश की मां इंदिरा लंकेश ने शनिवार को मुझसे मुलाकात की। मैंने उन्हें आश्वासन दिया कि गौरी के हत्यारों को कठघरे में लाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है।’ उन्होंने बताया कि आरोपियों का पता लगाने में सरकार हर संभव उपाय आजमाएगी।

मुख्यमंत्री ने बताया कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी उनसे बात की है। कांग्रेस अध्यक्ष ने उनसे आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार करने को कहा है।

बता दें कि गौरी लंकेश की पांच सितंबर को बेंगलुरु स्थित उनके आवास पर गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या के बाद तीन अज्ञात लोग मौके से फरार हो गए।

वैचारिक मतभेदों को लेकर वह कुछ लोगों के निशाने पर थीं। वह कन्नड़ भाषा में एक साप्ताहिक पत्रिका निकालती थीं और उन्हें निर्भीक और बेबाक पत्रकार माना जाता था। वह कर्नाटक की सिविल सोसायटी की चर्चित चेहरा थीं। गौरी कन्नड़ पत्रकारिता में एक नए मानदंड स्थापित करने वाले पी. लंकेश की बड़ी बेटी थीं। वह वामपंथी विचारधारा से प्रभावित थीं और हिंदुत्ववादी राजनीति की मुखर आलोचक थीं।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved