ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

गोरखपुर: टीचर ने छात्र को इतना प्रताड़ित किया कि आत्महत्या कर ली

student suicide in gorakhpur

गोरखपुर। हरियाणा के रायन स्कूल में हुए प्रद्युम्न कांड की गुत्थी अभी सुलझ भी नहीं पाई थी कि गोरखपुर में पांचवीं के छात्र ने अपनी जान दे दी। क्लास टीचर के उत्पीड़न से तंग आकर सेंट एंथोनी स्कूल, गोरखपुर के पांचवीं कक्षा के छात्र नवनीत प्रकाश ने जहर खाकर अपनी जान दे दी। 12 वर्षीय नवनीत प्रकाश ने मरने से पहले सुसाइड नोट भी लिखा है। इसमें उसने क्लास टीचर द्वारा किए गए उत्पीड़न के बारे में लिखा है।

बेटे की मौत से गुस्साए घरवालों और आसपास के लोगों ने जेल बाईपास रोड स्थित स्कूल पर पथराव कर तोड़फोड़ की। पुलिस ने शिक्षक और प्रबंधक के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज कर लिया है। छात्र के पिता इंटर कॉलेज में शिक्षक हैं। वह उनका इकलौता बेटा था।

मृतक छात्र ने सुसाइड नोट में लिखा है कि- पापा, आज मेरा पहला एग्जाम था। मेरी क्लास टीचर मैम ने मुझे सवा नौ बजे तक रुलाया, खड़ा रखा। वो इसलिए क्योंकि वो चापलूसों की बात मानती है। उनकी किसी बात का विश्वास मत करिएगा। कल उन्होंने मुझे तीन घंटे तक खड़ा रखा। आज मैंने सोच लिया है कि मैं मरने वाला हूं। मेरी आखिरी इच्छा है कि आप मैम को किसी बच्चे को इतनी बड़ी सजा न देने को कहें।

अलविदा
पापा, मम्मी और दीदी।

यह सुसाइड नोट लिखकर छात्र घर में ही जहर खा लिया। घटना के वक्त उसके पापा अपने स्कूल मां बाजार गई हुई थीं। जब नवनीत की मां घर पहुंचीं तो वह अचेत अवस्था में था और उसके मुंह से झाग निकल रहा था। इसकी जानकारी उन्होंने अपने पति को दी तथा उनका रोना सुनकर पड़ोसी भी इकट्ठा हो गए। छात्र को तत्काल बीआरडी हॉस्पीटल में भर्ती कराया गया। लेकिन नवनीत की जान नहीं बच सकी और बुधवार को उसने दम तोड़ दिया।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved