ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

सलमान खान के कमेंट से भड़का दलित समुदाय, जयपुर में जलाए ‘टाइगर जिंदा है’ के पोस्टर

tiger zinda hai protesters vandalize by dalits

जयपुर। देश भर के सिनेमाघरों में सलमान खान और कैटरीना कैफ स्टारर फिल्म एक था टाइगर की धमाकेदार ओपिनिंग हो चुकी है। बॉलीवुड के भाईजान की यह फिल्म दर्शकों को खूब पसंद आ रही है। सिनेमा घर हाउसफुल हो रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ राज्यस्थान के जयपुर में फिल्म के खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है।

प्रदर्शनकारियों ने सिनेमा हॉल पर फिल्म के खिलाफ मूवी के पोस्टर जलाकर विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि सलमान खान ने एक टीवी शो में जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल किया था। दरअसल सलमान खान ने एक टीवी शो में ‘भंगी’ शब्द का इस्तेमाल किया था। हालांकि उन्होंने खुद के लिए ही इस शब्द का इस्तेमाल किया था लेकिन इसे जातिगत अपमान के तौर पर देखा जा रहा है। इस शो में शिल्पा शेट्टी भी शामिल थीं।

सलमान के इस शब्द के प्रयोग से दलित समाज में रोष का माहौल है। दरअसल भंगी शब्द को घृणा की नजर से इस्तेमाल किया जाता है। इसे जातिविशेष के लिए घृणित तौर पर इस्तेमाल किए जाने के कारण लोगों में गुस्सा था। यह घटना काफी दिन पहले की है और लगातार इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था।

वहीं दूसरी तरफ इस मामले में नेशनल कमीशन फॉर शेड्यूल ट्राइब ने नोटिस जारी कर इन्फॉर्मेशन एंड ब्रॉडकास्टिंग मिनिस्ट्री और दिल्ली-मुंबई के पुलिस कमिश्नर्स से सात दिन में जवाब मांगा है। सलमान खान ने टीवी शो में अपनी फिल्म टाइगर जिंदा है के प्रमोशन के दौरान इस शब्द का इस्तेमाल किया था। उन्होंने अपने डांस के टैलेंट की तुलना के लिए जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल किया था।

वहीं बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी ने भी यह बताने के लिए कि वह घर पर कैसी दिखती हैं के लिए भी इसी जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल किया था। जिसको लेकर अखिल भारतीय वाल्मीकि समाज ने अत्याचार निगरानी प्रकोष्ठ की ओर से राजस्थान के पाली में थाने में शिकायत दर्ज कराई गई है। उनका कहना है कि सलमान खान और शिल्पा शेट्टी की इस टिप्पणी से उनकी भावनाएं आहत हुई हैं।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved