fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

मंदिर में प्रवेश करने की कोशिश पर 90 वर्षीय दलित को जीवित जलाया

dalit dying by fire
Representational Image (IndiaTimes)

उत्तर प्रदेश के हम्मीरपुर में शुक्रवार को एक 90 वर्षीय दलित को मंदिर में प्रवेश करने के प्रयास करने के कारण उस पर कुल्हाड़ी से हमला किया गया और उसके बाद उसे आग में जिन्दा जला दिया। जिसके कारण उसकी मृत्यु हो गई।

Advertisement

व्यक्ति की  पहचान की जा चुकी है, उसक नाम चिम्मा है। दरअसल बुधवार को शाम में चिम्मा और उसकी पत्नी, पुत्र दुर्जन और भाई मैदानी बाबा मंदिर गए थे। संजय तिवारी नाम के एक व्यक्ति ने उन्हें मंदिर में प्रवेश करने से रोक लिया।

जब चिम्मा ने ऐसा करने से इनकार कर दिया तो संजय तिवारी ने उनपर कुल्हाड़ी से प्रहार कर दिया और उनको आग में जीवित जला दिया।

यह घटना कानपुर से 140 किलोमीटर दूर हमीरपुर और जालुन जिलों के बीच की सीमा पर एक बिलगाओं नामक गांव में घटित हुई। यह घटना अन्य लोग जो पूजा करने के लिए वहां आये थे उनके उपस्थिति में हुई।

पुलिस ने कहा की उसे वहां मौजूद अन्य लोगों द्वारा पकड़ लिया गया। उन्होनें कहा की घटना के दौरान संजय तिवारी ने शराब पी रखी थी।एक प्रत्यक्षदर्शी ने कहा कि तिवारी ने चिम्मा और कई अन्य लोगों से मंदिर में प्रवेश नहीं करने के लिए कहा था, लेकिन उन्होंने मना कर दिया।


उसने कहा कि तिवारी उग्र हो गया और दलित व्यक्ति पर कुल्हाड़ी के साथ हमला किया। इस दौरान चिम्मा की पत्नी ने मदद के लिए चिल्लाई।तिवारी ने चिम्मा के ऊपर मिट्टी का तेल डाला और फिर उनको जिन्दा जला दिया।

इस मामले में पुलिस ने तिवारी को गितफ़्तार को कर लिया है, परन्तु अभी भी उसके दो सहयोगियों का पकड़ा जाना बाकी है।

 

(Image Credits: Indiatimes)

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

3
To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved