fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
लाइफस्टाइल

शर्ट उतारने से कोई बॉडीबिल्डर नहीं बन जाता- पुनीत इस्सर

मुम्बई के बॉम्बे एक्जिबिशन सेंटर में एशिया के सबसे बड़े फिटनेस मेले का आज समापन हो चुका है। 12 से 14 अक्टूबर तक चलने वाले विश्व स्तरीय मेले में कई नामी गिरामी शख़्सियतें जैसे मशहूर अमरीकी बॉडीबिल्डर काई ग्रीन, भारत की पहली महिला फिटनेस फिजीक एथलीट मिस वर्ल्ड श्वेता राठौर, ओलंपियन सुशील कुमार और ‘महाभारत’ में मशहूर किरदार निभारने वाले ‘दुर्योधन’ यानी पुनीत इस्सर भी शामिल हुए।

Advertisement

रविवार को मेले का अंतिम दिन था जहां बॉडीबिल्डिंग में अपना करियर देखने वाले और इसे पसंद करने वाले हजारों लोग शामिल हुए। इसी बीच वीवा फिटनेस के स्टेज पर पुनीत इस्सर ने अपने फैंस को संबोधित किया और फिटनेस के टिप्स शेयर किए। उन्होंने अपने फैंस से कहा कि जैसे आप रोज़ाना खाना खाते हैं वैसे ही कसरत को भी अपनी दिनचर्या का एक हिस्सा बना लें।

एक तरफ जहां उन्होंने अपने फैंस को प्रोत्साहित किया वहीं सैंकड़ों लोगों की भीड़ में उन्होंने एक तरह से सलमान खान पर तंज भी कसा। इस्सर ने कहा, ‘शर्ट उतारने से बॉडी नहीं बनती। उसके लिए टांगे मजबूत होनी चाहिए, जो हमारे शरीर की नींव हैं।’

वीवा फिटनेस के मंच पर खड़े होकर इस्सर ने सलमान को कॉपी करते हुए कहा ऐसे करने से कोई बॉडीबिल्डर नहीं बन जाता। हालांकि अपनी बात में उन्होंने कहीं भी सलमान खान का नाम नहीं लिया लेकिन उनकी बातें कहीं न कहीं सीधा-सीधा सलमान खान की तरफ इशारा कर रही थी।

गौरतलब है कि सलमान ने बीइंग हयूमन की तर्ज़ पर अपना फिटनेस ब्रांड लाने के लिए एक फिटनेस मशीन बनाने वाली कंपनी में अपनी 100 फीसदी साझेदारी की है।


इसी बीच मिस्टर ओलंपिया और अर्नाल्ड क्लासिक जैसी विश्व स्तरीय प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले चुके मशहूर अमेरिकी बॉडीबिल्डर, प्रोफेशनल ट्रेनर, आर्टिस्ट और वीवा फिटनेस के ब्रांड अंबेसडर काई ग्रीन यहाँ अपने भारतीय फैंस से मिलने पहुंचे थे।

भारतीयों के बीच बॉडीबिल्डिंग में इतना प्यार देखकर उन्होंने भारत में रहने की इच्छा भी जताई। साथ ही उन्होंने कहा कि वे इंडिया में रहकर यहां के लोगों को ट्रेन करना चाहते हैं, ख़ासकर बॉलीवुड के लोगों को।

फिट रहना हर व्यक्ति के लिए जरूरी है अनफिट व्यक्ति अस्वस्थ माना जाता है और ये कई बीमारियों का कारण बन सकता है। हाल ही में डब्ल्यूएचओ की रिसर्च के अनुसार दुनिया में भारत के अधिकतर लोग तनावग्रस्त रहते हैं, जिसकी वजह से शरीर में कई तरह की बीमारियां होती है और यही तनाव आगे चलकर आत्महत्या करने का कारण भी बनता है। ग्रीन चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा लोग फिटनेस पर धयान दें और स्वस्थ रहें। इसके साथ ही ग्रीन ने ये भी कहा कि वे भारत को अपना दूसरा घर बनाना चाहते हैं ताकि वो भारतीय लोगों से और यहां के लोग फिटनेस से जुड़े रहें।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved