fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  

एक बार फिर नस्लीय टिप्पणी का शिकार हुई शिल्पा शेट्टी, सोशल मीडिया पर ऐसे निकाला गुस्सा

अन्य
3 weeks ago

लगभग 11 वर्ष पहले शिल्पा शेट्टी नस्लीय व रंगभेद को लेकर की गई टिपण्णी का शिकार हो चुकी है और आज इतने वर्ष बाद भी फिर वही वाक्या शिल्पा के सामने दोबारा आ गया जिसका गुस्सा शिल्पा के द्वारा की गई इंस्टाग्राम पोस्ट पर साफ़ देखने को मिला है। 11 साल पहले “बिग बॉस” के इंग्लिश वर्जन “बिग ब्रदर” जो […]

अखलाख हत्याकांड के मुख्य आरोपी को उतारा जाएगा चुनाव में

राजनीति
3 weeks ago

उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना ने रूपेंद्र को नोएडा से चुनाव में उतारने का फैसला लिया है। बता दें की ये वही रूपेंद्र हैं जो अखलाख हत्याकांड में मुख्य आरोपी है। नवनिर्माण सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित जानी ने बताया की वह इसकी घोषणा सोमवार को बिसहड़ा पहुँच के करेंगे। गौरतलब है की नवनिर्माण सेना द्वारा ऐसा करना कोई नई बात […]

राफेल डील पर लालू यादव ने कसा PM मोदी पर तंज: अगर वाकई चौकीदार ईमानदार है तो सच बताने में किस बात का डर

देश
4 weeks ago

राफेल सौदे को लेकर एक बार फिर बीजेपी सवालो के घेरे में है। राफेल विमान सौदे को लेकर जब से फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने बयान दिया है, तब से भारत की राजनीति में अचानक खलबली सी मची हुई है। जिससे चारो ओर से बयानबाजी का सिलसिला लगातार लगा हुआ है इस बार रजद सुप्रीमो लालू यादव ने […]

‘बच्चा अभी हुआ नहीं लेकिन लड्डू तीन बार खा गई मोदी सरकार’

विमर्श
4 weeks ago

बच्चा अभी हुआ नहीं लेकिन लड्डू तीन बार खा लिए। किसानों को फसल का सही भाव देने के बारे में मोदी सरकार ने यही किया है। अभी तक एक भी किसान को बढ़ा हुआ रेट नहीं मिला है। लगता नहीं है कि ज्यादातर किसानों को यह मिलेगा लेकिन तालियां तीन बार पिट गईं, बधाई के पोस्टर- होॄडग लग गए, लड्डू […]

रफ़ाल लड़ाकू विमान को लेकर लड़ाई किस बात की हो रही है

विमर्श
3 months ago

हमने इस विवाद को समझने के लिए बिजनेस स्टैंडर्ड में अजय शुक्ला और टाइम्स ऑफ इंडिया के रजत पंडित की रिपोर्टिंग का सहारा लिया है। ये दोनों ही रक्षा मामलों के बेहतरीन रिपोर्टर/विशेषज्ञ माने जाते हैं। आप भी खुद से तमाम लेख को पढ़कर अपना सूची बना सकते हैं और देख सकते हैं कि कौन पक्ष क्या बोल रहा है। […]

राफेल डील: भारत की राजनीति के मोदीकाल का काला अध्याय

विमर्श
3 months ago

राफेल डील भारत की राजनीति में मोदीकाल का वह काला अध्याय है जो इस सरकार तथाकथित घोटाला मुक्त शासन कहे जाने को पूरी तरह से बेनकाब कर देता है. कल कांग्रेस ने जो पीएम और रक्षा मंत्री दोनों के ही खिलाफ लोकसभा में विशेषाधिकार हनन का प्रस्ताव लाने की घोषणा की है वह बिल्कुल सही कदम है. इस देश मे […]

‘काला’: मनोरंजन से बड़ा है फिल्म का दायरा

विमर्श
4 months ago

फिल्में दरअसल हमें बनाती हैं। हमें रचती हैं। हमारे जीने और सोचने के तरीके में हस्तक्षेप करती हैं। फिल्में ड्रेस सेंस देती हैं। चलने-बोलने की अदाएं सिखाती हैं। प्रेम और विवाह के मायने बताती और बदलती है। घरों की साजसज्जा तक पर फिल्मों का असर होता है। फिल्में पॉपुलर क्लचर का निर्माण करती हैं और कई बार राजनीति से प्रभावित […]

नौकरशाही में बदलाव के नाम पर मोदी सरकार का नया स्टंट

विमर्श
4 months ago

मोदी सरकार का एक नया स्टंट लाँच हुआ है जिसे लेकर आशावादी बहस में जुट गए हैं। इस स्टंट का भी बाक़ी स्टंट की तरह मक़सद यही है कि लोग बहस करें कि कुछ हो रहा है ख़ास कर ऐसे समय में जब कुछ नहीं हो रहा है के सवाल सरकार को कस कर घेरने लगे हैं। यह नया स्टंट […]

पर्दे से उतारी गयी व्यवस्था से टकराती “काला”

विमर्श
4 months ago

पहली बार पर्दे पर ब्राह्मणवादी व्यवस्था के चिथड़े उड़ाता दमदार बहुजन किरदार “काला” रियल लाइफ में भी अब उनकी नींदे उड़ाने लगा है. यूँ तो मैं कभी-कभी ही जा पाता हूं मूवी देखने, लेकिन इस बार अकेले ही मन बना लिया था. फिर वरिष्ठ साथी भंवर मेघवंशी के साथ आने से इस मूवी की सार्थकता और बढ़ गयी. पिछले कुछ […]

‘जब तक आप अपनी नागरिक होने के अधिकार को हासिल नहीं करेंगे तब तक आपकी मांगों पर कोई ध्यान नहीं देगा’

विमर्श
5 months ago

यहां से भारत को देखो, बैंकर मायूस, मनरेगा के मज़दूर भूखे और तेल के दाम का खेल देखो… ख़ुशी मनाइये कि कर्नाटक में चुनाव हैं वर्ना पेट्रोल का दाम 90 रुपये तक चला गया होता। पिछले 13 दिनों से पेट्रोल और डीज़ल के दाम नहीं बढ़ रहे हैं जबकि अंतर्राष्ट्रीय बाज़ारों में कच्चे तेल का दाम बढ़ता ही जा रहा […]

क्या प्रधानमंत्री मोदी रेड्डी बंधुओं पर बिना पेपर के 5 मिनट बोल सकते हैं?

विमर्श
6 months ago

बेल्लारी के रेड्डी बंधुओं के कारण राज्य को कितने राजस्व का नुकसान हुआ, इसके तीन आंकड़े हैं। संतोष हेगड़े की रिपोर्ट के अनुसार 12,000 करोड़ का नुकसान हुआ। सिद्धारमैया सरकार की एच के पाटिल कमेटी की रिपोर्ट के अनुसार 1 लाख करोड़ के राजस्व का नुकसान हुआ। ये कर्नाटक के एक साल के बजट के बराबर है। 2 जी केस […]

पेट्रोल हुआ महंगा मगर लोगों को अफसोस कि 150 रुपये लीटर क्यों नहीं ?

विमर्श
6 months ago

2014 के बाद से लोगों की आर्थिक क्षमता ज़रूर बढ़ी होगी तभी मुंबई में 81 रुपये 93 पैसे लीटर पेट्रल लोग ख़रीद रहे हैं। डीज़ल भी 69 रुपये 54 पैसे प्रति लीटर हो गया है। नोट करने वाली बात है कि एटीएम में पैसे नहीं है। फिर भी नोटबंदी से ज़्यादा नगद चलन में है। इसके बाद भी लोग खुश […]

जब मीडिया नहीं होगा तो आदमी को ही मीडिया बन जाना होगा- रवीश कुमार

विमर्श
6 months ago

जज लोया की मौत की रिपोर्टिंग के लिए मीडिया का बड़ा हिस्सा शांत रहा। मौत की परिस्थिति पर ही सवाल उठे हैं और मांग जांच की हुई है, इसके बाद भी इस सामान्य मांग पर सबने किनारा कर लिया। सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो चुकी है और फ़ैसला सुरक्षित है। इस बीच कैरवान पत्रिका की रिपोर्ट सिहरन पैदा करती है […]

जब सड़कों पर दलित-पिछड़ों ने दिखाया दम तो RSS भी देने लगा सफाई

विमर्श
7 months ago

दलित भाईयों के द्वारा उच्चतम न्यायालय के फैसले के विरुद्ध भारत बंद से देश की सभी भाजपा सरकारें, केन्द्र सरकार और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ सकते में है। सभी बैकफुट पर हैं, केन्द्र सरकार तुरंत पुनर्विचार याचिका लेकर पंडिज्जी के पास पहुंची तो राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने तुरंत सफाई दी कि अदालत के इस फैसले से उसका कोई लेना […]

प्रधानमंत्री के हमारे मेहुल भाई और रविशंकर प्रसाद के जेंटलमैन चौकसी

विमर्श
8 months ago

“कितना ही बड़ा शो रूम होगा, हमारे मेहुल भाई यहां बैठे हैं लेकिन वो जाएगा अपने सुनार के पास ज़रा चेक करो।“ ये शब्द प्रधानमंत्री के हैं। यू ट्यूब पर हैं। PM Narendra Modi at the launch of Indian Gold Coin and Gold Related Schemes नाम से टाइप कीजिए, प्रधानमंत्री का भाषण निकलेगा। इस वीडियो के 27 वें मिनट से […]

चिकित्सा विज्ञान को चुनौती देकर अंधविश्वास फैलाते विज्ञान के सिद्धहस्त

विमर्श
8 months ago

पिछले दिनों देश के कुछ अखबारों में एक अध्या‍त्मिक समागम का दो सम्पूर्ण पृष्ठ वाला विज्ञापन प्रकाशित हुआ, ऐसे विज्ञापन बड़े-बड़े होर्डिगं, फ्लेक्स, बैनर, पोस्टर पूरे रायपुर शहर में लगाए गए. विज्ञापन में या दावा किया गया कि ऐसे तमाम रोग जिसमें चिकित्सा विज्ञान नाकाम हो गया है. उन्हें इस दो दिवस के समागम में ठीक किया जाएगा. इस विज्ञापन […]

आंबेडकर बनाम हेडगेवार: जाति विनाश बनाम समरस एकात्मवाद

विमर्श
8 months ago

पुणे के पास भीमा कोरेगांव में दलितों के सालाना जमावड़े पर हमले और उसके बाद के आंदोलन से संघ यानी आरएसएस चिंतित है. मध्य प्रदेश के विदिशा में चल रही संघ के मध्य क्षेत्र की समन्वय बैठक में इसके संकेत नजर आए, जहां संघ प्रमुख मोहन भागवत ने आह्वान किया कि काम करने वालों को मकर संक्रांति के दिन तिल […]

रवीश कुमार की अपील- सरकारी नौकरी खत्म, इस पोस्ट को दस लाख नौजवानों तक पहुंचाएं

विमर्श
9 months ago

ऐसी ख़बरें आ रही हैं कि सरकार पांच साल से ख़ाली पड़े पद समाप्त करने जा रही हैं। यह साफ नहीं है कि लगातार पांच साल से ख़ाली पड़े पदों की संख्या कितनी है। अवव्ल तो इन पर भर्ती होनी चाहिए थी मगर जब नौजवान हिन्दू मुस्लिम डिबेट में हिस्सा ले ही रहे हैं तो फिर चिन्ता की क्या बात। […]

चुनाव के वो लोकलुभावन वादे और बेरोजगारी की खाई में गिरते युवा

विमर्श
9 months ago

बेरोजगारी एक ऐसा शब्द जिसका मायने किशोरावस्था तक मुझे या ज्यादातर लोग को नहीं पता रहा होगा, किशोरावस्था यानि स्कूल की आखिरी सीढ़ी से कॉलेज में घुसने तक का समय, कॉलेज में घुसने के बादचंद महीनो बाद ही इस सर्फ़ दंश के भी भयानक जहर का अंदाजा जब अपने सीनियर्स को बेरोजगार घूमते देखा तो लग गया, बिना किसी के […]

दुनिया की सबसे महंगी जाति जनगणना के आंकड़े कहां हैं?

विमर्श
9 months ago

सबसे महंगी गिनती की अगर कोई ग्लोबल लिस्ट बने तो उसमें भारत की आर्थिक और जाति जनगणना को जगह जरूर मिलेगी. केंद्र सरकार के आंकड़ों के मुताबिक इस जनगणना पर कुल 3,543 करोड़ रुपए खर्च होने थे. 2011 में शुरू हुई यह जनगणना लगातार लंबी खिंचती चली गई और 31 मार्च 2016 को जब इस जनगणना का काम पूरा हुआ […]

More Posts
To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved