fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

2018 सर्वे में बीजेपी को कड़ी टक्कर दे रही है कांग्रेस, आसान नहीं शिवराज चौहान की वापसी

Shivraj Singh Chouhaan

मध्य प्रदेश में विधान सभा के चुनाव करीब आ रहे है। ऐसे में सव्रे के दौरान लोगो की राय जानी जा रही है सव्रे के दौरान कई चौकाने वाली बाते सामने आ रही है। सालो से वापस सत्ता में की कोशिश करती कांग्रेस की स्तिथि लगातार बेहतर होती नजर आ रही है। पहले कराये गए सर्वे में बीजेपी को 128 सीटे और कांग्रेस को 85 सीटे मिलने की सम्भावना जताई जा रही थी। वही फिर से किये गए सर्वे में अब बीजेपी को 122 सीटे और कांग्रेस को 95 सीटे मिलने का अनुमान है। इसका मतलब की बीजेपी को सीधे सीधे 6 सीटों का नुकसान हो रहा है। दूसरी और कांग्रेस को 10 सीटों का फायदा हो रहा है। बीजेपी शासित इस राज्य में 28 नवम्बर को मतदान होगा। ऐसे में आने वाले समय में थोड़े ओर बदलाव की उम्मीद है।  मध्य प्रदेश में विधान सभा की कुल 230 सीटे है। फिलहाल शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में बीजेपी की पूर्ण बहुमत वाली सरकार है।

Advertisement

इस समय कांग्रेस मध्य प्रदेश के हर क्षेत्र में बीजेपी को चुनौती दे रही रही है। दूसरी और शिवराज सिंह चौहान चौथी बार सत्ता हासिल करने की कोशिश में जुटे है। कांग्रेस वर्ष 2003 से ही सरकार से बाहर है। ऐसे में बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही सत्ता पाने का भरपूर प्रयास करेंगे। कांग्रेस शिवराज की अगुआई वाली बीजेपी को मध्य प्रदेश के हर क्षेत्र में चुनौती दे रही है।

चम्बल क्षेत्र में कुल 34 सीटे है। लोगो के द्वारा लिए गए उनके ओपिनियन पोल की माने तो इस क्षेत्र की 15 सीटे कांग्रेस और 14 सीटे बीजेपी के खाते में जा सकती है। दूसरी और बसपा को एक और  अन्य को 4 सीटे मिलने का अनुमान है। इसी प्रकार बघेलखंड रीजन में कुल 52 सीटे है। जिनमे से 26 बीजेपी को तो 23 सीटे कांग्रेस को जा सकती है। भोपाल क्षेत्र में भी कांग्रेस बीजेपी को कड़ी दे सकती है। यहाँ कुल 22 सीटे है। अनुमान है की 13 सीटें बिजेपी और 9 सीटे कांग्रेस को जा सकती है। वर्ष 2013 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 165 सीटे हासिल की थी।

होने वाले चुनाव को लेकर किये गए सर्वे से यह सामने आया है की बीजेपी की सीटों में गिरावट आ सकती है। यही नहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की लोकप्रियता में भी गिरावट आयी है। पहले  किये गए सर्वे में 40.35 फीसदी लोगो ने शिवराज को सीएम पद का पसंदीदा चेहरा बताया था। दूसरे सर्वे में यह आंकड़ा 40.11 प्रतिशत रह गया। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ की लोकप्रियता में गिरावट आयी है दूसरी ओर ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रभाव में वृद्धि दिखाई दी।


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved