ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

30 से ज्यादा मौतों के बावजूद बोले खट्टर- आप मांगते रहिए इस्तीफ़ा, हमने अच्छे से निभाई जिम्मेदारी

manohar-lal-khattar

नई दिल्ली। सीबीआई स्पेशल कोर्ट की ओर से डेरा प्रमुख राम रहीम को बलात्कारी का दोषी करार दिए जाने के बाद फैली हिंसा के बाद तीस से ज्यादा लोगों की मौत हुई। जिसके बाद राज्य की मनोहर लाल खट्टर सरकार की सभी विपक्षी दलों ने जमकर आलोचना की। सोशल मीडिया पर भी सीएम खट्टर की खूब आलोचना हुई। वहीं सीएम खट्टर ने आज (बुधवार) भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की। इस दौरान पत्रकारौं से बातचीत करते हुए खट्टर ने कहा कि मैने कोर्ट के आदेशों का पालन किया था और जिसे इस्तीफा मांगना हो मांगता रहे।

बता दें कि राम रहीम पर फैसले से पहले कोर्ट ने राज्य सरकार से संभावित हिंसा के लिए सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम करने का निर्देश दिया था। इसके बाद जब कोर्ट ने राम रहीम को बलात्कार का दोषी करार दिया तो डेरा समर्थक बेकाबू हो गए और प्रदेश भर में हिंसा-आगजनी, सार्वजनिक संपत्ति के साथ तोड़फोड की। इस दौरान तीस से ज्यादा लोगों की मौत हुई।

फिर कोर्ट ने फिर मनोहर लाल खट्टर की सरकार को फटकार लगाई कि राजनीतिक फायदे के लिए हिंसा नहीं रोकी गई।

इसके बाद जब विपक्षी दलों द्वारा इस्तीफा मांगे जाने की बात उठी तो खट्टर बोले की जिसे इस्तीफा मांगना है मांगता रहे। हमने अपना काम किया है और इससे संतुष्ट हैं। बता दें कि राज्य में हुई हिंसा में 32 लोगों की जान चली गई थी वहीं कई घायल हुए थे। इसके बाद से ही खट्टर विपक्ष के निशाने पर थे। खट्टर ने खुद भी घटना के बाद जो चूक हुई उसे माना था।

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved