ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
Uncategorized

सीएम शिवराज के गांव के स्कूल में सामने आया भष्टाचार का मामला

सीहोर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के गृह ग्राम जैत में निर्माणाधीन हाईस्कूल भवन में भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है। बता दें कि मध्य प्रदेश में अब तक ठेकेदारों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगते रहे हैं, लेकिन यह मामला उलट है।

 

आपको बता दें कि सीहोर में लोक निर्माण विभाग के ठेकेदार अवधेश प्रताप सिंह राठौर ने भोपाल के लोकायुक्त पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई है। इसमें संभागीय परियोजना इंजीनियर संजय पाठक पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए टेंडर की रकम से 40-50 लाख रुपए अधिक खर्च करने का आरोप लगाया है।

 

पढ़ें- घेरे में EVM मशीन: जब बैंक एकाउंट हैक करके लाखों रुपए उड़ाए जा सकते हैं तो EVM सेफ कैसे?

 

बताया जा रहा है कि ठेकेदार अवधेश सीहोर के ग्वालटोली निवासी हैं। उन्होंने लोकायुक्त पुलिस में शिकायत में पाठक पर जान बूझकर निर्माण कार्यों में आर्थिक अनियमितताएं करवाने का आरोप लगाया है और उनके खिलाफ मामला दर्ज करने का आग्रह किया है। इतना ही नहीं उन्होंने अपने आवेदन में लिखित और प्रमाणित साक्ष्यों के साथ काम को गंभीर आर्थिक अपराध बताया है।

 

इस मामले को लेकर शिकायत में कहा गया है कि स्कूल भवन निर्माण के समय प्लिंथ लेवल पर कॉटन वाल दो मीटर से लेकर 2.30 मीटर उंचाई तक माप पुस्तिका में दर्शाई गई है जबकि निर्माण स्थल पर आगे की ओर 0.60 मीटर से अधिक नहीं है। उसी तरह पीछे की ओर 1.20 मीटर से अधिक ऊंचाई नहीं है, जबकि माप पुस्तिका में पीछे की ऊंचाई 2.30 मीटर दर्ज की गई है।

 

पढ़ें- योगी राज: जातिवादी गुंडो ने डाला दलित की बेटी की शादी में अड़ंगा, प्रशासन मौन

 

यहां तक की निर्माणाधीन हाईस्कूल भवन में काम को लेकर लगभग 16 लाख रुपए का काम दिखाया गया है। इसमें लोहा एवं रोड़ी का कार्य शामिल नहीं है। आरोप है कि प्लिंथ लेवल में 10 लाख रुपए तक की अनियमितता की गई है। इसी तरह से पूरे निर्माण में हुई गड़बड़ी और गलत ब्यौरे का उल्लेख किया गया है।

 

संपादन- भवेंद्र प्रकाश

 

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved