ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
Uncategorized

नरेंद्र मोदी नहीं डॉ. मनमोहन सिंह ने शुरु की थी बुलेट ट्रेन की पहल, ये है पूरा सच

नई दिल्ली। भारत में बुलेट ट्रेन की आधारशिला रखने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता भले ही अपनी पीठ खुद ही थपथपा रही हो लेकिन हकीकत यह है कि बुलेट ट्रेन की पहल पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने की थी। मई 2013 में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो एबी के संयुक्त बयान में भारत में हाई स्पीड ट्रेन का नेटवर्क बनाने के लिए दोनों देशों के बीच सहयोग की बात कही गई थी। वर्ष 2013 में ही उनके जापानी समकक्ष प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने इस बारे में साझा बयान जारी किया था। साल 2014 (अगस्त) में शिंजो आबे ने ही डॉ. मनमोहन सिंह जापान के सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किया था।

Image result for dr manmohan singh with shinzo abe

तब भारत के प्रतिष्ठित समाचार पत्र द हिंदू बिजनेस लाइन ने भी एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी जिसमें कहा गया- जल्द ही भारत सरकार मुंबई और अहमदाबाद के बीच हाई-स्पीड रेल कॉरिडोर के प्रस्ताव को मंजूरी दे सकती है, जिससे दो वित्तीय केंद्रों के बीच यात्रा का समय ढाई से सात घंटे तक होगा।

यहां क्लिक कर पढ़ें पूरी रिपोर्ट

रेलवे मंत्रालय के तत्कालील एक सीनियर अधिकारी ने बताया था कि 492 किलोमीटर लंबा मुंबई- अहमदाबाद रेल मार्ग पर प्रस्तावित हाई स्पीड रेल को प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह की अध्यक्षता वाली उच्च स्तरीय मीटिंग में हरी झंडी दी गई है।

इस अधिकारी ने बताया था कि 60,000 करोड़ रुपये इस परियोजना का अनुमान लगाया गया है। इसके लिए विभिन्न विकल्पों पर विचार किया जा रहा है।

दैनिक जागरण ने मीडिया रिपोर्ट्स का हवाला देते हुए लिखा था कि जापान में 500 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली बुलेट ट्रेन का पहला परीक्षण किया गया है।

bullet-train

यहां क्लिक कर पढ़ें पूरी रिपोर्ट

सेंट्रल जापान रेलवे के अधिकारियों ने सोमवार को ट्रेन के एल-10 मॉडल पर से पर्दा उठाया। मध्य जापान के यामानाशी प्रांत में इसका परीक्षण किया गया। परीक्षण के लिए 43 किलोमीटर का ट्रैक बनाया गया है। पांच डिब्बे वाली ट्रेन को ट्रैक पर दौड़ाकर देखा गया। इसका व्यावसायिक संचालन 2027 में टोक्यो और नगोया के बीच होना है।  पिछले प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो एबी के संयुक्त बयान में भारत में हाई स्पीड ट्रेन का नेटवर्क बनाने के लिए दोनों देशों के बीच सहयोग की बात कही गई थी।

Image result for dr manmohan singh with shinzo abe

इसी तरह मिंट लाइव ने भी जापान के समाचार पत्र निक्की की खबर का हवाला देते हुए लिखा था कि भारत के प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह और उनके जापानी समकक्ष शिंजो आबे ने रेलवे के लिए व्यवहारिक अध्ययन के बारे में संयुक्त बयान जारी करेंगे।

bullet-train-one

यहां क्लिक कर पढ़ें पूरी रिपोर्ट

 

Latest अपडेट के लिए National Dastak पेज को Like और Follow करे

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved