fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

बीजेपी नेता ने बताया भगवान राम को वैश्य, हनुमान जी की जाति पर फिर हुई राजनीति

bjp-leader-vineet-aggarwal-claims-for-ram-and-hanuman-caste-says-they-both-were-from-vaishya-samaj
Image Credits: Dunia Digest

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले वर्ष 27 नवंबर को राजस्थान के अलवर में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए हनुमान जी को दलित समुदाय का बता दिया था। योगी के इस बयान को लेकर खूब राजनीति हुई , योगी अपने ही बयान में फसते नज़र आये। इस घटना के बाद विवाद गहराता चला गया।

Advertisement

अब उत्तर प्रदेश के मेरठ में भारतीय जनता पार्टी के नेता ने भगवान राम और हनुमान जी को लेकर विवादित बयान दिया है। बीजेपी व्यापार प्रकोष्ठ के नेता विनीत अग्रवाल ने अब भगवान राम और हनुमान की जाति बताई है। बीजेपी नेता ने दावा किया है कि भगवान राम और हनुमान वैश्य समाज से थे। उन्होंने कहा कि कोई कुछ भी बताता रहे लेकिन दोनों ही वैश्य थे।

पहले भी भारतीय जनता पार्टी के कई दिग्गज नेताओ ने भगवान् हनुमान की जाति को लेकर अलग अलग बयान दिए। यूपी सरकार के दर्जा प्राप्त मंत्री रघुराज सिंह ने हनुमान को ठाकुर करार दिया था। लोकदल अध्यक्ष सुनील सिंह ने हनुमान को किसान बताया था।

यूपी सरकार में धार्मिक कार्य मंत्री लक्ष्मी नारायाण चौधरी ने हनुमान जी को जाट बताया था। इसे साबित करने के लिए उन्होंने अजीब तर्क दिया था जिसमें कहा था कि जो दूसरों के फटे में टांग अड़ाए, वही जाट है। बीजेपी एमएलसी बुक्कल नवाब ने हनुमान को मुसलमान बताया था।

भगवान् हनुमान की जाति और धर्म को लेकर मामला यही खत्म नहीं हुआ। राष्ट्रीय अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष नंद कुमार साय ने हनुमान को आदिवासी बताया था। भारतीय जनता पार्टी ने हाल ही में अलग हुई बहराइच की सांसद सावित्री बाई फुले ने विवादित बयान देते हुए कहा था कि भगवान हनुमान मनुवादी लोगों के गुलाम थे। पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद ने हनुमान जी को चीनी बता दिया था।


बीजेपी नेताओ ने अपने अजीबो गरीब तर्कों से भगवान् हनुमान को अलग अलग जाति का बना दिया। जब सीएम योगी ने बीते वर्ष भगवान् हनुमान को दलित समुदाय का बताया था तो कुछ संतों ने नाराजगी जताते हुए यहां तक कहा था कि सीएम योगी को अपने बयान पर माफी मांगनी चाहिए। अयोध्या के हनुमानगढ़ी मंदिर के मुख्य पुजारी महंत राजू दास ने कहा था कि भगवान हनुमान को लेकर बयानबाजी करने वाले नेताओं के खिलाफ वह मुकदमा करेंगे।

बीजेपी नेताओ में भगवान की जाती और धर्म को लेकर बयानबाज़ी खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही। अभी तक लगभग दर्जनों बीजेपी के नेताओ ने भगवान् हनुमान की जाती और धर्म को लेकर बयानबाज़ी की है। चुनावी माहौल में घर्म और जाति को लेकर न जाने कब तक भारतीय जनता पार्टी के नेताओ का बयान थमेगा।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved