fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

दबंगो के किया दलित परिवार की ज़मीन पर कब्ज़ा, विरोध करने पर धारदार हथियार से किया हमला

every-third-day-in-the-district-a-dalits-harassment-case-is-recorded

उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में दलित परिवार पर कुछ दबंगो ने हमला बोल दिया। जिले के परसपुर थाना क्षेत्र में दलित दम्पत्ति पर धारदार हथियार और लाठी डंडे से हमला किया गया। दलित परिवार ने घटना की जानकारी बताते हुए बताया की गाँव के ही कुछ दबंग उसकी जमीन पर जबरन रास्ता निकालना चाहते हैं, जबकि रास्ता दूसरी तरफ से खुला हुआ है जब दलित परिवार ने दूसरी तरफ से खुले रास्ते से जाने को कहा तो दबंगो ने हालमा बोल दिया।

Advertisement

डरा सहमा ये परिवार दबंगो की दबंगई का शिकार हुआ, तो अपनी सुरक्षा की गुहार लगाने एसपी कार्यालय पहुँच गया। मामला जिले के परसपुर थाना क्षेत्र के सेवरी गावँ का है। दलित परिवार की अपनी ही ज़मीन पर दबंगो ने कब्ज़ा जमा लिया। परिवार के काफी मना करने पर भी दबंगो ने एक न सुनी और दबंग छवि के लोगो ने लाठी डंडे और फावड़े से पिटाई कर दी। जिससे एक का हाथ टूट गया और दूसरे का सिर फट गया. इतना ही नहीं, जब इन लोगों ने थाने पर गुहार लगाई तो खाकी नें भी उनकी सुनवाई नहीं की.

पीड़ित महिला का नाम पुष्पा है और उन्होंने बताया की गाँव के ही कृष्णदत्त पांडे, सरयू प्रसाद पांडे, सोनू और सीताराम ने मिलकर उन्हें मारा है। उन्होंने हमारी ज़मीन पर जबरन कब्ज़ा जमाया हुआ है। मिट्टी पटवा कर दलित के घर के दरवाजे पर कूड़ा भी फेक देते हैं। दबंगो ने उन्हें अपने ही घर में रहना मुश्किल कर दिया है। वह लोग सरे आम गुंडागर्दी करते है पर कोई सुनवाई करने वाला नहीं है। पुष्पा ने बताया कि हम थाने पर तीन महीने से दौड़ रहे हैं लेकिन कोई सुनवाई नही हो रही है।

दलित परिवार महीनो से थाने के चक्कर काट रहा है। अब पुलिस अधीक्षक से अपनी ज़मीन बचने की गुहार लगाई है। वहीं इस पूरे मामले पर जिले के एसपी आर पी सिंह ने बताया कि जय प्रकाश ने सूचना दी है, कि उसे और उसकी पत्नी को गाँव के ही दो लोगो ने मारा है जिनकी पहचान कर ली गई है पुलिस ने पीड़ितों का मेडिकल कराया गया है और मेडिकल रिपोर्ट की अभी प्रतीक्षा की जा रही है। वही इस मामले में अभी एक आदमी को अरेस्ट किया गया है जिससे पुलिस पूछताछ कर रही है।


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved