fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

पत्रकारों ने किया वित्त मंत्रालय का बहिष्कार, भाजपा के लिए बड़ी शर्मिदगी की बात

after-the-distance-from-the-dinner-of-the-ministry-of-finance-nirmala-sitharaman-journalists-have-boycotted-the-press-conference

भाजपा सरकार पत्रकारों के सवालो से हमेशा पीछे हटते नज़र आती है। आपको बता दे की भाजपा सरकार में पत्रकारों को वित्त मंत्रालय में प्रवेश प्रतिबंधित किए जाने के बाद मंत्रालय और इसे कवर करने वाले पत्रकारों के बीच संबंध तनावपूर्ण हो गए हैं, लेकिन शुक्रवार को यह और तनावपूर्ण हो गया, जब पत्रकारों ने वित्त मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के संवाददाता सम्मेलन का बहिष्कार कर दिया। इसे सरकार के लिए एक बड़ी शर्मिदगी मानी जा रही है, क्योंकि मात्र कुछ सप्ताह पहले ही वित्त मंत्रालय कवर करने वाले अधिकांश पत्रकारों ने नार्थ ब्लॉक में वित्त मंत्री निर्मला सीतारणम द्वारा आयोजित बजट के उपरांत रात्रिभोज से दूरी बना ली थी।

Advertisement

सभी पत्रकार शुक्रवार को नेशनल मीडिया सेंटर से बाहर निकल आए, क्योंकि उनसे कहा गया था कि मीडिया को संबोधित करने वाले अधिकारी सिर्फ बयान पढ़ेंगे और किसी प्रश्न का जवाब नहीं देंगे। अधिकारियो को यह निर्देश दिए गए थे की वह किसी भी पत्रकार के सवालो का जवाब नहीं देंगे नही देंगे जिसको लेकर पत्रकारों की नाराजगी सरकार के प्रति साफ़ देखने को मिली। यह आयोजन उस समय और नाटकीय हो गया, जब वित्तमंत्री के मुख्य आर्थिक सलाहकार  कृष्णमूर्ति सुब्रह्मण्यम इस सोच में पड़े थे की उनको मीडिया के सवालों का जवाब देना हैं या नहीं।

वित्तमंत्री के मुख्य आर्थिक सलाहकार कृष्णमूर्ति सुब्रह्मण्यम  इस बारे में उच्चाधिकारियों से सलाह लेने की बात कहकर हॉल से बाहर चले गए। और हद तो तब हो गई जब वह लौटे ही नहीं, बाद में वह संवाददाता सम्मेलन कक्ष के पास कहीं दिखाई ही नहीं दिए। इस बीच, पत्रकार सवाल पूछने की बात पर अड़े रहे और सरकार की तरफ से एकतरफा बयान सुनने से इनकार कर दिया।

इससे पहले ‘पत्रकारिता की स्वतंत्रता’ की रक्षा के लिए अभूतपूर्व एकता का प्रदर्शन करते हुए वित्त मंत्रालय कवर करने वाले 100 से ज्यादा पत्रकारों ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पत्रकारों के लिए आयोजित ‘पोस्ट बजट डिनर’ का बहिष्कार कर दिया था। पत्रकारों ने सर्वसम्मति से पोस्ट बजट डिनर का बहिष्कार करने का फैसला लिया।  वित्त मंत्रालय द्वारा लगतार मीडियाकर्मियों पर कोई  प्रतिबंध लगा दिया जाता है।

वित्त मंत्रालय द्वारा मीडियाकर्मियों के नॉर्थ ब्लॉक में प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने के फैसले के विरोध में ‘पोस्ट बजट डिनर’ का बहिष्कार कर दिया, आपको बता दे की मंत्रालय में अब केवल उन मान्यता प्राप्त पत्रकारों को प्रवेश की अनुमति है, जिनके पास किसी आधिकारी से मिलने की पूर्व अनुमति होगी, पत्रकारों को मंत्रालय मे आने से पहले ही अनुमति लेनी होगी बिना अनुमति के कोई भी पत्रकार प्रवेश नहीं कर सकता जिसको लेकर पत्रकारों और वित्त मंत्रालय के बीच विवाद चल रहा है। 


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved