fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

मॉब लिंचिंग के खिलाफ इकठ्ठा हुए लोगो पर हुई FIR, लगाया बड़ा आरोप

The-FIR-against-the-people-gathered-against-Mob-Lynching,-the-big-allegation-imposed
(image credits: Law and Other Things)

मॉब लिंचिंग के खिलाफ मुस्लिम संगठन जुमे की नमाज के बाद सड़कों पर उतरे साथ ही डाेरंडा के उर्स मैदान में आक्रोश सभा का आयोजन किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे मौ ओबेदुल्लाह कासमी ने कहा कि इस तरह की घटना समाज में नफरत फैलाने की साजिश है, लेकिन हम लोग एक हैं। उन्होंने कहा की तबरेज़ अंसारी के साथ जो हुआ उसमे पुलिस की लापरवाही का सबसे बड़ा हाथ है।

Advertisement

आमया संगठन के अध्यक्ष ने कहा कि ऐसी घटनाओं ने झारखंडी एकता को कमजोर किया है। राज्य में 17 से ज्यादा लिंचिंग की घटनाएं हुई हैं। मुफ्ती अनवर कासमी ने सरकार से जल्द से जल्द इन बढ़ती घटनाओं पर रोक लगाने की मांग की है। रांची के डोरंडा उर्स मैदान में जुटी भींड़ ने सात सूत्री मांग रखी गयी।

इसमें कहा गया कि तबरेज अंसारी वाले मामले की सीबीआइ से जांच करायी जाये। सुप्रीम कोर्ट द्वारा लिंचिंग पर रोक के लिए दिये आदेशों का पालन किया जाये। राज्य में इस तरह की घटना के रोक के लिए कानून बनाया जाये। फास्ट ट्रैक कोर्ट का गठन कर मामलों की सुनवाई की जाये सभी पीड़ित परिवार का पुनर्वास सुनिश्चित किया जाये। पीड़ित परिवारों पर लगे मुकदमों को वापस लिया जाये। घटना में दोषी वरीय पुलिस प्रशासन पर कार्रवाई हो। यह सभी मांगे आमया संगठन द्वारा राखी गई है।

सभा समाप्ति के बाद लोग जुलूस की शक्ल में सभा स्थल से लौट रहे थे । तभी वह से एक बस में से कुछ उपद्रवियो ने लोगो को देख कर नारे लगाए सभा से लौट रहे लोगों ने कहा कि बस में सवार कुछ लोग हमलोगों को देख कर धार्मिक नारा लगाने लगे और अपशब्द कहना शुरू कर दिया। इससे बात बढ़ी और मामला बिगड़ गया। लेकिन, अमन पसंद लोगों ने माहौल को बिगड़ने से बचा लिया। मौके पर डीसी राय महिमापत रे और एसएसपी अनीश गुप्ता दल-बल के साथ पहुंचे ने पूरी तरह से माहौल को शांत कराया। शाम पांच बजे के बाद स्थिति सामान्य हुई।

स्थानीय लोगों ने कहा कि राजेंद्र चौक के समीप यदि पुलिस बल की तैनाती रहती, तो इस तरह की घटना नहीं होती। प्रशासन को मालूम था कि इस सभा में लोगों की भीड़ होगी। बावजूद इस चौक पर पुलिस बल की तैनाती नहीं की गयी थी। जबकि, उनकी तैनाती सभा स्थल के समीप थी, जिस कारण से इस तरह की घटना हुई। मुताहिद मुस्लिम महाज के संयोजक मौ कासमी ने कहा कि इस तरह की घटना दुखद है. हमलोगों ने लोगों से कार्यक्रम की समाप्ति के बाद शांतिपूर्वक जाने की अपील की थी।लेकिन, राजेंद्र चौक के समीप बस में सवार लोग धार्मिक नारा लगा रहे थे, जिसके बाद यह घटना घटी, हमलोगों ने तत्काल प्रशासन के साथ मिल कर माहौल को शांतिपूर्ण बनाया।


सभा में शामिल शांतिपूर्ण तरीके से जा रहे मुस्लिम युवको पर पुलिस ने FIR दर्ज कर दी है उनपर शांति भंग करने के आरोप लगाए गए जबकि उनके मुताबिक शांतिपूर्ण तरीके से जा रही जुलूस को बस में सवार कुछ उपद्रवियों ने भड़काया था। फिलहाल अभी इस पुरे मामले की जाँच चल रही है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved