fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

बुलंदशहर में हिंसक घटना गोवंश मांस के नाम पर हिंसा, इंस्पेक्टर समेत 2 की मौत

Image Credit: Hindustan

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में सोमवार तीन दिसम्बर को एक हिंसक घटना का मामला सामने आया है जहा कथित तौर पर गौमांस मिलने के कारण भीड़ उग्र होकर हिंसक हो उठी। हिंसक हुई भीड़ और पुलिस के बीच में काफी देर तक झड़प हुई जिसमे पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह समेत दो लोगों की मौत हो गई, जबकि कई पुलिसवाले व अन्य लोग जख्मी हुए।

Advertisement

पुलिस इंस्पेक्टर समेत दो लोगो की मौत के बाद स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) इस मामले को देख रही है। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने शाम को इस मसले पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की। कुमार बोले, “लोगों ने खेत से कथित तौर पर गोवंश का मांस बरामद होने को लेकर शिकायत की थी। उन्होंने उसे ट्रैक्टर-ट्रॉली में रखकर मुख्य सड़क पर जाम लगा दिया था, तभी अचानक उनका प्रदर्शन हिंसक हो गया। भीड़ ने इसके बाद पुलिस पर पथराव किया। जवाब में उन्हें तितर-बितर करने के लिए पुलिसकर्मियों को भी लाठी चार्ज करना पड़ा।”

बकौल कुमार,ने कहा की “शुरुआती जांच के अनुसार, पुलिस इंस्पेक्टर की मौत किसी भोथरी चीज से हुई है। लेकिन वह किस चीज से हुई? इसकी पुष्टि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से होगी। वहीं, सुमित नामक स्थानीय फायरिंग में गंभीर रूप से जख्मी हुआ। आनन-फानन में उसे मेरठ के अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया। जांच में पता लगाया जा रहा है कि किसने उसे गोली मारी।”


 Violent incident in Bulandshahr Violence in the name of meat

वही एडीजी लॉ एंड ऑर्डर आनंद कुमार ने इस मामले को देखते हुए प्रेस को बताया की “उत्तेजित ग्रामीणों ने संभावित गोवंश के अवशेषों को ट्रैक्टर-ट्रॉली में रखकर स्याना गढ़ रोड को ब्लॉक कर दिया। ग्रामीणों को अधिकारियों ने समझाने की कोशिश की, पर जाम हटाने को लेकर वे उग्र हो गए। तीन गांव (महाव, नया बांस व चिंगरावटी) के तकरीबन 400 लोग थे, जो वहां जमा हुआ था। चौकी के पास 15 वाहन क्षतिग्रस्त किए गए। पुलिस को ऐसे में हवाई फायरिंग करनी पड़ी। ग्रामीणों की तरफ से भी कट्टे से फायरिंग हुई। उसी दौरान इंस्पेक्टर के सिर में कोई बड़ी सी चीज लगी थी, जिससे उनके सिर में चोट लगी। पर अस्पताल में डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित किया। हालांकि, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर ही उनकी मृत्यु का कारण पता लगेगा।”

https://www.youtube.com/watch?v=mdGcxZOHHDk

Video Source: NDTV News

उनके मुताबिक, “कथित गोकशी के बाद पथराव में थाना प्रभारी और एक अन्य की मौत के मामले की जांच एडीजी इंटलीजेंस को सौंपी गई है। वह 48 घंटे के अंदर अपनी गोपनीय रिपोर्ट सौंपेंगे। हिंसा के मामले में पुलिस महानिरीक्षक मेरठ की अध्यक्षता में एसआईटी का गठन हुआ है। जिलाधिकारी ने इसके अलावा मजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दिए हैं। बुलंदशहर में घटना के बाद अतिरिक्त सुरक्षा बल भेजा गया, जबकि स्थिति नियंत्रण में बताई गई।”

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved