fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

विवेक तिवारी के मौत का हुआ खुलासा, सीसीटीवी फुटेज से खुले कई बड़े राज

cctv footage vivek tiwari

लखनऊ में हुए विवेक तिवारी हत्याकांड के बाद पुलिस का दावा झूठा नजर आ रहा है।  विवेक तिवारी हत्याकांड के मामले में सीसीटीवी फुटेज सामने आया है जिसने पुलिस के दिए गए हर बयान को गलत साबित कर दिया और सना खान के बयान को सही साबित कर दिया।

Advertisement

विवेक तिवारी पर गोली चलने वाले आरोपी कॉन्स्टेबल प्रशांत चौधरी का कहना था की गाडी खड़ी हुई थी लेकिन सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक कार चल रही थी।

https://www.youtube.com/watch?v=hypI6zYpe-k

सौजन्य: भारत समाचार

आरोपी प्रशांत चौधरी का कहना है की विवेक ने तीन बार उसके ऊपर गाडी चढाने कि कोशिश की जबकि फुटेज के मुताबिक गाडी पहले चल रही थी और बाइक पीछे आ रही थी यानी मौके पर विवेक के  साथ मौजूद सना खान का दवा सही पाया गया।

सना खान ने एफआईआर में कहा था की “देर रात हम और हमारे सहकर्मी ASM  साहब रात से लगभग डेढ़ बजे करीब घर वापस आ रहे थे तभी अचानक कॉन्स्टेबल प्रशांत चौधरी और संदीप कुमार सामने आ गए, ASM साहब डर गए और महिला साथ होने की वजह से गाडी आगे बढ़ाने की कोशिश की उसी समय मोटर साइकिल से एक सिपाही उतरा जो पीछे बैठा था उसके हाथ में डंडा था और आगे बैठे प्रशांत चौधरी ने शीशे पर पिस्टल रखकर जान से मरने के उद्देश्य से गोली चलायी,जिससे उनकी मौत हो गयी।


विवेक तिवारी की पत्नी का कहना है की मेरे पति के बारे में झूठी बाते फैलाई जा रही है ,जबकि वह बेगुनाह है और उनके बेगुनाही के सबूत भी है। उन्होंने इन्साफ की मांग की है और कहा है केस की निष्पक्ष जांच हो।

विवेक की पत्नी का कहना है की उन्होंने सना के बयान के आधार पर एफआईआर की, जिसमे लिखा है की ठुड्डी में गोली लगी और आधा किलोमीटर बाद गाडी सबवे के खम्बे से जा टकराई, इस बिच वहां पुलिसवाले आये और उन्होंने न किसी को फोन करने दिया न ही किसी का फोन उठाने दिया और जबरदस्ती खाली कागज़ पर मुझसे हस्ताक्षर करा लिए और उच्चाधिकारियो के दबाव में मुझसे जबरदस्ती उस पन्ने पर लिखवाया भी गया। उस समय में डरी हुई थी इसलिए जो बोला में लिखती गयी। परन्तु इस मामले की एसआईटी जांच करने के लिए कहा गया है।

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना से रविवार फोन पर बात की और आश्वाशन दिया की वह उनकी हर तरह से मदद करेंगे, उनका परिवार जब चाहे तब उनसे मिल सकता है।

2 Comments

2 Comments

  1. CHAUDHAREY RAM GANESH

    October 2, 2018 at 8:36 pm

    yoge chor hay

  2. Deodas Agrawal

    October 3, 2018 at 9:22 am

    The department (police)Should also be interrogated?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved