fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
देश

पहली बरसात नहीं झेल पाया मोदी का 750 करोड़ का अस्पताल, पानी में डूबा 18 मंजिल का अस्पताल

water-logging-at-15th-floor-of-svp-hospital-new-v-s-hospital-in-ahmedabad-

धानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसी साल जनवरी में अहमदाबाद के सरदार वल्‍लभ भाई पटेल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस एंड रिसर्च अस्पताल का उद्घाटन किया। 18 फ्लोर का यह अस्पताल करीब 750 करोड़ की लागत से बना।  दवा किया जा रहा था की अस्‍पताल में हाई टेक्‍नॉलिजी की मशीनें लगाई गई हैं। अस्पताल को एकदम हाई टेक्‍नॉलिजी से तैयार किया गया है पर सभी चीज़ो की पोल अस्पताल के बनने के कुछ महीने बाद ही सामने आ गई। 

Advertisement

आपको बता दे की 750 करोड़ की लागत से बने अस्पताल की 18 मंजिलें पहली ही बरसात का पानी नहीं झेल पाईं।  सरदार वल्लभ भाई अस्पताल की 18 मंजिलों की छत पार कर बारिश का पानी पहली मंजिल तक टपका. इसके कारण अस्पताल के चार ऑपरेशन थिएटर बंद करने पड़े हैं। वहीं अभी महज सात महीने पहले खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बहुप्रतीक्षित अस्पताल का लोकार्पण किया था। 

अस्पताल में हालात यह हैं कि मरीजों को अन्य ऑपरेशन थिएटर में ले जाना पड़ा. इसके पहले भी 16वीं मंजिल पर स्थित डॉक्टर रेजिडेंट रूम में पानी घुस गया था. इस मामले में अहमदाबाद की मेयर बिजल पटेल ने कहा कि संबंधित इंजीनियर और डिप्टी म्यूनिसिपल कमिश्नर को जांच करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि जिस दिन जल भराव हुआ, उसी दिन अस्पताल का दौराकर अधिकारियों से जांच कर रिपोर्ट देने को कह दिया था। 

इस मामले में विधायक इमारन खेडावाला ने कहा कि अस्पताल का निर्माण कराने वाली कंपनी के खिलाफ जांच कमेटी बनानी चाहिए. उन्होंने भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए जांच कराने की मांग की. वहीं अधिकारियों का कहना है कि 18वीं मंजिल पर स्टॉर्म वाटर लाइन के बीच की बैन्ड टूट जाने की वजह से ऑपरेशन थिएटर तक पानी पहुंचा था। 

प्रशासन का कहना है कि रिपेयरिंग के बाद ऑपरेशन थिएटर चालू कर दिए जाएंगे।  गौरतलब है कि इस अस्पताल में कुल 32 ऑपरेशन थिएटर (OT) हैं, जिसमें हर मंजिल पर 4 ओटी है. अभी 16 ओटी चालू हैं। इनमें से चार ओटी बंद होने की वजह से 12 ओटी से ही काम चलाना पड़ रहा है. एक ऑपरेशन थिएटर में जहां प्रतिदिन पांच से छह ऑपरेशन होते थे, वहीं इस सप्ताह आठ से नौ ऑपरेशन करने पड़े. मरीज़ो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अस्पताल निर्माण के समय बड़े पैमाने पर हुए घोटाले और भ्रष्टाचार की खबरे सामने आ रही है। 


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved