fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
अन्य

त्रिपुरा में गोरक्षको ने गोतस्करी में बढ़ोतरी होने पर बीजेपी सरकार को दी चेतावनी

Gorakksho-warns-BJP-government-in-Tripura-about-increase-in-cow-smuggling
(image credits: india tv)

बीजेपी राज्य त्रिपुरा में गोरक्षको द्वारा बीजेपी को चेतावनी देने का मामला सामने आता दिख रहा है। दरअसल राज्य में गौ तस्करी के मामलो में 80 फीसद इजाफा होने के लेकर गोरक्षक दल ने सरकार के खिलाफ नाराजगी जाहिर की है। इस दल ने सरकार को अल्टीमेटम देते हुए कहा है कि यदि 15 दिन में सरकार ने गोतस्करी को रोकने की दिशा में कदम नहीं उठाए तो फिर वह सरकार के खिलाफ चले जाएंगे।

Advertisement

बता दे की यह दल आरएसएस से संबद्ध होने का दावा कर रहा है। इस मामले में गौरक्षक दल के कार्यकारी अध्यक्ष समर चक्रवर्ती का कहना है कि ‘बीते दिनों में गोतस्करी काफी ज्यादा बढ़ गई है। हमने इस संबंध में जिलाधिकारी और मुख्यमंत्री को कई बार पत्र लिखा है, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। त्रिपुरा में गोतस्करी तुरंत बंद होनी चाहिए। हमने सीएम को 15 दिन का अल्टीमेटम दिया है, लेकिन यदि सरकार इसे रोकने में नाकाम रहती है तो फिर हम सरकार के खिलाफ भी जा सकते हैं।’

चक्रबर्ती का कहना है कि, ‘जब कोई गोतस्कर पकड़ा जाता है, तो वह भाजपा या किसी अन्य राजनैतिक पार्टी के साथ होने का दावा करता है। हमारा मानना है कि कोई भी तस्कर किसी भी पार्टी के साथ नहीं हो सकता।’ इतना ही नहीं गौरक्षक वाहिनी दल ने एक और गंभीर आरोप लगाया है। गोरक्षा वाहिनी दल के नेताओं का आरोप है कि पुलिस भी गोतस्करी में शामिल है, और सीएम बिप्लब कुमार देब ने इस ओर से अपनी आंखे फेर रखी हैं।

गौरक्षक दल ने राज्य के मुक्यमंत्री पर निशाने साधते हुए कहा, ‘आप सीएम हैं, कृप्या अपनी ड्यूटी करें। हमने आपको कई पत्र लिखे, लेकिन आपने इसका कोई जवाब नहीं दिया। हम गोतस्करों को पकड़कर पुलिस के हवाले करते हैं और बाद में पुलिस रिश्वत लेकर उन्हें छोड़ देती है।’

वहीं दूसरी ओर गोरक्षा वाहिनी दल के आरोपों पर बीजेपी प्रवक्ता नाबेन्दू भट्टाचार्य ने कहा, ‘हम आरएसएस से संबंधित इस नाम वाले किसी संगठन के बारे में नहीं जानते हैं। राज्य सरकार अपना काम कर रही है। हमारे पास गोतस्करी 80 प्रतिशत तक बढ़ने के बारे में कोई जानकारी नहीं है। बीएसएफ बॉर्डर पर अपना काम कर रही है।’


आरएसएस से संबद्ध होने का दावा करने वाले गौरक्षक दल द्वारा राज्य सरकार को चेतावनी देना अटपटा सा लगता है। वो भी तब जब खुद बीजेपी सरकार गौ रक्षा को लेकर गंभीर होने का दावा करती है। देखा जाये तो इस दल के अनुसार राज्य में गोतस्करी के मामले में इजाफे होना, राज्य सरकार पर सवाल खङे करता है। साथ ही यह भी देखना होगा की राज्य की बीजेपी सरकार गोरक्षा वाहिनी दल द्वारा दिए गए चेतावनी पर किस प्रकार प्रतिक्रिया करती है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved