fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
अन्य

पुलिस ने BJP मंत्री की गाडी बिना जांच के जाने की दी इजाजत, आखिर में पुलिसकर्मी को करना पड़ा निलंबित

Police-allow-BJP-minister's-vehicle-to-go-without-investigation,-policemen-suspended-at-last
(image credits: india today)

आज कल ट्रैफिक नियमो के साथ साथ गाड़ियों की जांच पर भी सख्ती बरती जा रही है। सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हर जगह गाड़ियों को चेक किया जा रहा है। परन्तु कई ऐसी खबरे भी सामने आती है जिनमे कुछ बड़े पदों पर बैठे लोगो का ना ही चालान कटता है ना ही गाड़ियों की जांच होती है। ऐसी ही एक खबर सामने आई है जिसमे बीजेपी के मंत्री की गाडी को बिना जांच किये छोड़ दिया गया।

Advertisement

मामला यूपी का है जहां बीजेपी के केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री और राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे की गाडी को जांच किये बिना ही छोड़ दिया गया था। सियासत में छपी खबर के अनुसार गाडी पर काले रंग के शीशे थे और उसे अश्विनी कुमार चौबे के बेटे अर्जित चौबे चला रहे है। गाडी में परिवार के कुछ और भी लोग थे। परन्तु कार रोकने बाद उसे बिना किसी जांच के छोड़ दिया गया। इस मामले में पटना के आयुक्त आनंद किशोर के आदेश पर एक उप निरीक्षक सहित तीन पुलिसकर्मियों को रविवार को निलंबित कर दिया गया।

यातायात पुलिस अधीक्षक डी अमरकेश के साथ किशोर बेली रोड स्थित बिहार म्यूजियम के समीप नये मोटर वाहन संशोधन अधिनियम 2019 के तहत सघन जांच कर रहे थे। इसी दौरान केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे की काले शीशे लगी कार चला रहे उनके बेटे अर्जित चौबे वहां पहुंचे। पुलिसकर्मियों ने गाड़ी को जांच के लिये रोका लेकिन कुछ समय तक कोई भी पुलिसकर्मी वहां जांच के लिये नहीं पहुंचा। इसके बाद अर्जित बिना जांच कराए ही गाड़ी को लेकर रवाना हो गया।

आयुक्त ने जुर्माने की राशि वसूलने में लापरवाही बरतने पर उप निरीक्षक देवपाल पासवान और आरक्षी दिलीप चंद्र सिंह एवं पप्पू कुमार को निलंबित किए जाने का निर्देश यातायात पुलिस अधीक्षक को दिया। बीजेपी क़ानून और नियमो को बदलने में लगी है परन्तु खुद ही उन नियमो को तोड़ रही है। कोई बीजेपी का सदस्य हो या फिर आम आदमी, कानून सबके लिए बराबर है परन्तु बीजेपी के कई लोग अपने आप को सबसे ऊपर मानती है।

गाडी बिना जांच के जाने देने पर दो पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही तो हुई परन्तु इस घटना से पता चलता है की बीजेपी के लोग या फिर उनके परिवार वालो के खिलाफ कोई भी सख्ती नहीं बरत सकता। आखिर सख़्ती करे भी क्यों, बीजेपी से जो रिश्ता है और सभी यह जानते है बीजेपी के खिलाफ कोई भी नहीं जा सकता।


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved