fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

कांग्रेस ने कहा भाजपा के मुँह में ‘राम’ और दिल में ‘नाथूराम’

priyanka-chaturvedi-

अयोध्या राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद पर कांग्रेस ने साफ कहा की वह सुप्रीम कोर्ट के हर फैसले  करेगी। कांग्रेस ने राम मंदिर पर हो रहे तीस सालो से राजनीति को लेकर भाजपा पर निशाना साधा है। कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गाँधी की आस्था और भक्ति का मज़ाक उड़ने वाले भाजपाइओ के लिए सद्बुद्धि मांगी है।

Advertisement

कांग्रेस की प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी का कहना है की उनकी पार्टी का सदैव ही मत रहा है की सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर-बाबरी मस्जिद को लेकर जो कानूनी प्रक्रिया चल रही है हम उसका सम्मान करते हैं और सभी फैसले को स्वीकार करेंगे साथ ही कोर्ट पर भरोसा है जो भी फैसला आएगा सरकार उसे लागू करेगी।

लगातार तीस सालो से राम मंदिर मुद्दे को लेकर भाजपा अपनी राजनीति कर रही है भाजपा राम मंदिर के नाम पर जनता को भड़काने और भ्रमित करने काम कर रही है और इसमें भाजपा बेनकाब हुई है भाजपा के मुँह में राम है परन्तु दिल में नाथूराम है।

भाजपा सरकार की हमेशा यही रणनीति रही की कैसे राम मंदिर के नाम पर वोट बटोरा जाये और जब सत्ता में आ जाए तो कैसे इन मसलो को भुला दिया जाए !  जब चुनाव के छह महीने शेष रहते हैं तो वोट बटोरने के लिए फिर भगवान श्रीराम याद आ जाते हैं। सत्ता पाने के लिए राम का नाम लेना इनका असली चेहरा और चरित्र है।

भाजपाइयों ने कांग्रेसी राहुल गाँधी की शिवभक्ति, मंदिर दर्शन, और आस्था को लेकर काफी मज़ाक उडाया है इसके लिए कांग्रेस वालो ने कहा है की बह्वन उन्हें सद्बुद्धि दे और वही शास्त्रों का हवाला देते हुए अहा है की भगवान की भक्ति में रुकावट पाप और श्राप के भागीदारी होंगे।


प्रियंका ने कहा है की राहुल गाँधी की पैदल केदारनाथ और कैलाश मानसरोवर की यात्रा से कुछ लोग घबरा गए है उनके पेट में पीड़ा हो रही है। कांग्रेस अध्यक्ष ने चित्रकूट से मघ्यप्रदेश विधानसभा चुनाव की शुरुआत कर दी है इसके चलते भाजपाइयों की छटपटाहट दिख रही है। प्रियंका ने कहा है की उनसे हाथ जोड़ कर अनुरोद है की भाजपा नेता विचलित न हो घबराये नहीं संयम और मर्यादा बनाये रखे।

1 Comment

1 Comment

  1. subhash Chandra

    September 29, 2018 at 7:12 pm

    ​​
    ​​
    ​​
    ​​
    कोंग्रेसी सोच, षड्यंत्रों के चलते भारत में भरस्टाचार, गुंडों का शासन चलत रहा – मेरी अल्प बुद्धि अनुसार ज्ञानी दलितों ने क्या क्या सर्जन किया मुझे पूर्ण ज्ञान नहीं पर रामायण व अन्य बहुत सारे उपनिषद, पूराण प्राचीन ग्रंथो को प्राचीन समय में लिखा था | आजादी पश्चात भी शिक्षा,मानवता नहीं, अभी भी सेक्स पढ़ाया जाता है- भारत की सभ्यता,स्नस्कृति, धर्म वहींन की हत्या-समाप्ति का एक सुनियोजित सडयंत्र था – भारत से कट,बने ईरान(१३७८),अफगानिस्तान,अफग़ानिस्तान,पकिस्तान, इराक +++ में कोई काफिर – बुद्ध,जैन,पारसी, पंडित, दलित,हिन्दू जिन्दा नहीं बचा है? फिर भी अभी गाते हैं “इस्लाम प्रेम,शांति,का प्रतीक धर्म”है |औरंगजेब, गजनी,गाजी, तेमूर, बाबर,++व उनके जिहाद के दारुल इस्लाम को क्यों नहीं पढ़ाया गया? क्योंकि जिहादी नेहरू एक ब्रिटिश जयचंद ही था – एक गुप्त छद्म अनुगामी/ मुसलमान, जवाहरि खान उर्फ़ नेहरू उर्फ़ नकली हिन्दू परिवार ने भारत की शिक्षा,संंस्कृति, मानवता सोच समझी चाल की परिणाम था- भारत की जड़ों में तेजाब डालने हजारों देश भगतों की हत्याओं के अपराध के सडयंत्रो का देश के सामने अभी तो उजागर होना है | याकूब मेमन द्वारा मुंबई ब्लास्ट में सैकड़ों देशवासी मारे गये- इस्लामिक आतंकवादी संसार के 99%आंतकवाद व भारत के हजारों दिल्ली , मुंबई, पटना,बोधगया +++ रहें हैं सीरियल ब्लास्ट के अपराधी जवाहरी खान के दुष्परिणामों का ही फल रहा है -दलितों, ब्रह्मिणो> सब हिन्दू++को मुर्ख बनाने,लूटने वाले- इस्लाम की बर्बरता, कट्टरता के परोक्ष, अपरोक्ष समर्थक,नकली वकील /पंडित ही तो थे- धूर्त धरम निरपेक्ष के ड्रामे बाज कांग्रेसी गेंग,दिग्गी,जीरो सिब्बल, चिदंबरम, अनपढ़,वेट्रेस उर्फ़सोनिया , चुप्पी साध कर, बर्बर आंतकवादिओ को निर्दोष व हिन्दुओं को उत्तम न बनाने वाले नेता इस्लाम को शांति, मानवता, प्रेम का धरम कहते रहे अब भी सहिष्णुता, “सूद्र “अप्सब्द का विलाप करते हें- मोदी राज में देर सबेर,अज्ञानता का अन्धकार दूर होगा- सख्त कानूनों पर पालन होगा हम पून: सच्चे आर्य,.मानव-हिन्दू होंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved