fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

कांग्रेस ने कथित गौ हत्यारों पर लगाया राष्ट्रद्रोह का काननू (रसुका)

congress-has-imposed-anti-national-law-on-the-alleged-cow-killers
(Image Credits: BBC)

हमने अक्सर भाजपा द्वारा गौ रक्षा के मुद्दे चुनाव में उठाते हुए सुना होगा। हम भाजपा से यह उम्मीद भी कर सकते हैं। लेकिन आज कल कुछ अन्य पार्टियों द्वारा भी गौ रक्षा के मुद्दे को इतनी गंभीरता से लिया जा रहा है की, पार्टी द्वारा कथित गौ हत्यारे पर रासुक लगा दिया जाता है। यहाँ अन्य पार्टियों से हमारा मतलब कांग्रेस पार्टी से है।

Advertisement

हम आपको रसुका की थोड़ी सी जानकारी दे देते हैं। (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) जिसे रसुका भी कहते हैं। यह तब लगाया जाता है जब अगर सरकार को लगे कि कोई व्यक्ति उसे देश की सुरक्षा सुनिश्चित करने वाले कार्यों को करने से रोक रहा है तो वह उसे गिरफ्तार करने की शक्ति दे सकती है। सरकार को ये लगे कि कोई व्यक्ति कानून-व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने में उसके सामने बाधा खड़ा कर रहा है तो वह उसे गिरफ्तार करने का आदेश दे सकती है। साथ ही, अगर उसे लगे कि वह व्यक्ति आवश्यक सेवा की आपूर्ति में बाधा बन रहा है तो वह उसे गिरफ्तार करवा सकती है।

दरअसल रासुका लगाने वाली घटना मध्य प्रदेश की है जहां गोहत्या के तीन आरोपितों के ऊपर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगाने की बात सामने आई है। सोशल मीडिया पर एक बड़े तबके ने इस मसले पर कांग्रेस को घेरते हुए इस पर अच्छी-खासी प्रतिक्रियाएं दी है।

इसी तरह एक वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने ट्विटर पर अपनी प्रतिकिया दी और उन्होंने लिखा , ‘कांग्रेस शासित मध्य प्रदेश में गोवंश की हत्या पर रासुका लगा दिया गया? मुझे पता है कि एक जमाने में गाय और बछड़ा कांग्रेस का चुनाव चिह्न हुआ करता था, लेकिन अब लगता है कि देश गाय के हवाले हो चुका है और साथ ही कांग्रेस की शैली वाली ‘धर्मनिरपेक्षता’ की भी पोल खुल चुकी है.’

वही Justice Markandey Katju ने tweet किया और इस मामले में रासुका लगाए जाने को पूरी तरह गलत बताया है।


मध्य प्रदेश सरकार के इस फैसले का मजाक बनाते हुए भी twitter पर कई प्रतिक्रियाएं आई हैं। ट्विटर हैंडल @BangduBol के जरिए प्रदेश के मुख्यमंत्री पर चुटकी ली गई है, और कहा मध्य प्रदेश में कांग्रेस के ‘कमलनाथ, योगी आदित्यनाथ को बहुत ही तगड़ा कॉम्पिटीशन दे रहे हैं.’

एक यूजर ने कांग्रेस पर तंज करते हुए लिखा, ‘अब तक कहा जाता था, भाजपा = कांग्रेस + गाय, लेकिन अब कहा जाना चाहिए, मध्य प्रदेश में कांग्रेस = भाजपा + गाय + गोबर’ .

वही एकू user kavita Kaushik ने कहा की मध्य प्रदेश में तीन लोगों को गोहत्या के आरोप में गिरफ़्तार कर लिया जाता है। माना कि गोहत्या ग़ैरक़ानूनी है लेकिन उन पर रासुका लगाना और गाय व राष्ट्र को समानार्थी बना देने का क्या मतलब है? गोहत्या अपराध तो हो सकता है लेकिन यह कोई राष्ट्रविरोधी कार्रवाई नहीं है।

irfan habeeb नाम के व्यक्ति ने tweet करते हुए बहुत ही सही बात कही, उन्होंने कहा की अगर सरकार को इसी प्रकार के मुद्दों को देखना था तो (मध्य प्रदेश) में तब पहले वाली सरकार भी पूरे समय यह सब करती आई है। फिर लोगों ने सरकार क्यों बदली? इस पर विचार किया जाना चाहिए।

वहीँ एक User लिखते हैं, अब कांग्रेस गोहत्या के कथित आरोपितों पर रासुका लगा रही है… क्या यह किसी प्रकार के ‘नर्म हिंदुत्व’ का औजार है?

कांग्रेस पार्टी द्वारा कथित गौ हत्यारे पर उठाये गए इस कदम ने लोगो को हैरान कर दिया है। लेकिन हमे यह मालूम होना चाहिए जब वोट बैंक और पार्टी के हित की बात आती है तो दोनों ही पार्टियां कांग्रेस और बीजेपी एक ही सिक्के के दो पहलु की तरह दिखाई देती है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved