fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

दिल्ली चुनाव में भाजपा का खेल बिगड़ेगी JDU, जानिए क्या है JDU का बिग प्लान

JDU-will-spoil-the-game-of-BJP-in-Delhi-elections,-know-what-is-JDU's-Big-Plan
(image credits: DNA India)

लगता है NDA की सहयोगी पार्टियां नाराज चल रही है। NDA में चल रही ऐसी दिक्कतों से पार्टी को नुक्सान झेलना पड़ रहा है। आज कल NDA पार्टी के लिए JDU के प्रमुख नेता नितीश कुमार मुसीबत बन कर सामने आ रहे है। कुछ दिनों पहले नितीश कुमार तीन तलाक बिल पास करने के खिलाफ थे और अब लगता है की बीजेपी के खिलाफ आने वाले चुनाव में अपने उम्म्मीद्वार उतार कर बीजेपी की मुश्किलों को बढ़ाएंगे।

Advertisement

जी हाँ नितीश कुमार अपनी पार्टी से दिल्ली में अपने उम्मीदवार उतरने का मन बना रही है। इससे बीजेपी पार्टी को काफी नुक्सान हो सकता है। नितीश हमेशा से अपने आप को बीजेपी के साथ बताते रहे यहाँ तक की आने वाले समय में भी उनके सहयोगी पार्टी बन कर रहने की बात कही है परन्तु इस समय ऐसा लगता है की वह बीजेपी के खिलाफ आपने मोर्चा खोल बैठे है।

कुछ ही समय के बाद दिल्ली में विधानसभा चुनाव होने वाला है। इस बार भाजपा दिल्ली की सत्ता पर काबिज होने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रही है। वजह ये है कि पिछले महीने संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में यहां की 70 विधानसभा सीटों में से 65 पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस से ज्यादा वोट प्राप्त किए। हालांकि, बिहार में NDA गठबंधन में शामिल नीतीश कुमार की पार्टी JDU दिल्ली में भाजपा का खेल बिगाड़ सकती है। JDU ने कुछ दिनों पहले कहा था कि उसका NDA के साथ गठबंधन सिर्फ बिहार में है। हरियाणा, दिल्ली, जम्मू-कश्मीर सहित अन्य राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में वह भाजपा के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतारेगी।

दिल्ली के प्रदेश JDU अध्यक्ष दयानंद राय का कहना है की, “पटना में संपन्न हुई राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने मुझे बुलाकर पूछा कि आपको दिल्ली में काम करने में कहां दिक्कत आ रही है? हमारे प्रभारी संजय झा, आरसीपी सिंह सहित अन्य लोग भी मौजूद थे। मैंने उनको सभी बातों से अवगत करवाया। एक सप्ताह के अंदर उसका यह नतीजा आया कि हमें फोन आया कि आप अपनी टीम के साथ आएं। उन्होंने हमें कहा कि दिल्ली में हम काम करेंगे। हमारे प्रभारी संजय झा हफ्ते में दो दिन रहेंगे। हमारी जरूरत रहेगा तो हम भी रहेंगे। कहीं भी कार्यकर्ताओं को नेताओं की कमी महसूस नहीं हो, ऐसा नहीं होने दिया जाएगा। हम 15 से 20 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। कोशिश करेंगे तो कई सीटों पर जीत मिल जाएगी।”

जदयू के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष का बयान उस बैठक के बाद आया है। इस बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर सहित अन्य नेता शामिल हुए। पटना में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दौरान ही JDU ने यह साफ तौर पर कहाँ था कि वह देश के कई राज्यों में अपनी पार्टी का विस्तार करेगी।


अब लगता है की भाजपा का सम्बन्ध JDU के साथ बिगड़ते जा रहे है। हालांकि सिर्फ बिहार तक अपना रिश्ता कायम करने वाले नितीश NDA पार्टी को दूसरे क्षेत्रों में कड़ी टक्कर देने का मन बना लिया है। वहीँ भाजपा भी अब अपने नए प्लान पर काम करने में लगी है। अगर नितीश कुमार अपने प्रत्याशी दिल्ली में उतारते है तो भाजपा के लिए यह एक कड़ी चुनौती साबित होगी। दूसरी और आम आदमी पार्टी भी पूरी तैयारी के साथ चुनावी मैदान में उतरेगी। देखना यह है की क्या भाजपा चुनाव में JDU को कड़ी टक्कर देगी या फिर भाजपा को यहाँ मुसीबत हार देखनी पड़ेगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved