fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

मायावती को नहीं मिलेगा गरीबो, पिछड़ों, दलितों का वोट: केशव प्रसाद मौर्य

Mayawati-will-not-get-poor,-backward,-vote-of-Dalits:-Keshav-Prasad-Maurya
(Image Credits: Amar Ujala)

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने सपा बसपा गठबंधन को लकर एक बयान दिया है। उन्होंने इस गठबंधन को अवसरवाद की पराकाष्ठा बताते हुए कहा की मायवती और अखिलेश कुछ भी कर लें गरीब, पिछड़े और दलित टस से मस नहीं होंगे और वे एकजुट होकर फिर से नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री बनायेंगे।

Advertisement

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने हिन्दुस्तान समाचार से ख़ास बातचीत में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ एकजुट दिखाने की कोशिश में लगे विपक्षी पार्टियों के तमाम नेता सैद्धान्तिक रूप से कभी एक हो ही नहीं सकते, क्योंकि संविधान में एक ही प्रधानमंत्री की इजाजत है, लेकिन गठबन्धन में शामिल अधिकतर नेता प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं।

उपमुख्यमंत्री मौर्य ने कहा कि सपा और बसपा में एक दूसरे के प्रति कभी विश्वास पैदा हो ही नहीं सकता। एक दक्षिणी ध्रुव है तो दूसरा उत्तरी ध्रुव। उनका कहना था कि सपा और बसपा अपने कृत्य को छिपाने के लिये आपस में नजदीकियां दिखाने की कोशिश में लगे है। यह दोनोंं ही अपना स्वार्थ हल नहीं होते देख पल भर में कभी भी छिटक कर एक दूसरे से दूर हो जायेंगे।

 जनता के पहली पसंद मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समक्ष मायावती और अखिलेश समेत सभी विपक्षी नेताओं का व्यक्तित्त्व बौना लगता है। प्रधानमंत्री मोदी ने दुनिया भर में भारत का सिर ऊँचा किया है। देश को विकास के पथ पर तेजी से आगे बढ़ाया। नरेंद्र मोदी के सफल विदेश नीति से भारत के दुश्मनों को हर मोर्चे पर मुंह की खानी पड़ी।


उपमुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाले लोकसभा चुनाव,राष्ट्रीय सुरक्षा, विकास और देश के उत्थान से जुड़ा है। ऐस में मोदी ही जनता की पहली पसंद है। प्रधानमंत्री ने अपने काम की मदद से भारत का नाम पूरी दुनिया में आगे किया है।

ममता बनर्जी की रैली से देश का भला नहीं

मौर्य ने बताया की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को रोकने का मतलब होता है, कांग्रेस के नेतृत्व में मजबूर सरकार। ऐसी सरकार जिसके कारण दुनिया में भारत का नाम दुनिया में काफी पीछे छूठ जाएगा। जाति के आधार पर चुनावी आंकलन करने वालों को परिणाम से बहुत निराशा होगी।

उन्होंने कहा की वेस्ट बंगाल में ममता बनर्जी की रैली से देश का भला नहीं हो सकता है। महागठबंधन बीजेपी के खिलाफ नहीं बल्कि देश की जनता के खिलाफ है। पहले वे लोकतंत्र के सिद्धान्तों का पालन करना सीखें। बंगाल में राजनीतिक पार्टियों को कार्यक्रम करने से रोका जाता है। लोकतंत्र का गला घोटा जाता है।

 सब कुछ जानती है जनता

उपमुख्यमंत्री मौर्य ने कटाछ किया कि महागठबंधन अभी ढंग से बना भी नहीं है और हिस्से की बात होने लगी है। भ्रष्टाचार के खिलाफ प्रधानमंत्री के कदमों ने कुछ लोगों को बेचैन कर दिया है। ये स्वाभाविक है कि वे गुस्सा हों, क्योंकि उन्हें जनता का पैसा लूटने से रोक दिया गया।

उन्होंने कहा की सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव जहां जाते हैं, वहां के स्थानीय नेताओं को वो प्रधानमंत्री बनाने लगते हैं। चाहे वह मायावती हो या पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, चन्द्रबाबू नायडू या शरद पवार, जनता सब समझती है।

राम मंदिर निर्माण संवैधानिक दायरे में किया जायगा

राम मंदिर निर्माण के सवाल पर उन्होंने कहा कि भाजपा संवैधानिक दायरे में भव्य मंदिर निर्माण चाहती है। वह चाहते हैं कि सुप्रीम कोर्ट इस मामले में जल्द से जल्द फैसला दे, ताकि करोड़ों लोगो की आस्था से जुडी राम की जन्मभूमि पर भव्य मंदिर निर्माण किया जा सके।

अपराधी जमानत उठवाकर जा रहे जेल

मौर्य ने केंद्र और राज्य सरकार की उपलब्धियों को बारी-बारी से जिक्र किया और कहा कि सरकार बनते ही नरेन्द्र मोदी ने कहा था कि उनकी सरकार गरीबों के लिए होगी। सबका साथ सबका विकास के सिद्धांत पर काम करेगी। सरकार अपने वादे पर खरा उतरी है। योगी सरकार  किसानों, गरीबों और समाज के कमजोर तबके के हित में ताबड़तोड़ फैसले ले रही है। कानून व्यवस्था चुस्त दुरूस्त है। अपराधी जमानत उठवाकर जेल चले जा रहे हैं।

(News Source: Sanjeevnitoday)

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved