fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

नितीश ने पुलिस को RSS समेत 19 हिंदू संगठनों की कुंडली खंगालने के दिए आदेश

Nitish-ordered-the-police-to-search-the-background-of-19-Hindu-organizations-including-RSS
(image credits: www.jagran.com)

बिहार की स्पेशल ब्रांच का एक आदेश इन दिनों सुर्खियों में है. दरअसल, स्पेशल ब्रांच की इंटेलिजेंस विंग ने आरएसएस समेत 19 हिंदू संगठनों से जुड़े हुए लोगों के बारे में जानकारी इकट्ठा करने का आदेश दिया है।

Advertisement

यह आदेश मई में स्पेशल ब्रांच के सभी डिप्टी एसपी को जारी किया गया है, जिसमें उनसे संगठनों के पदाधिकारियों का नाम और पते की जानकारी इकट्ठा करने के लिए कहा गया है। पुलिस के द्वारा संघ के बारे में एकत्रित किए जा रहे आदेश को बीजेपी ने गंभीर मुद्दा बताया और कहा कि इससे बीजेपी और संघ के लोग दुखी है।

स्पेशल ब्रांच की ओर से जारी आदेश में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ, विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल, हिंदू जागरण समिति, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जैसे बड़े बड़े संगठनों की पूरी कुंडली निकालने का आदेश दे दिया है. पूर्व केंद्रीय मंत्री और बिहार बीजेपी नेता संजय पासवान ने कहा कि बिहार की पुलिस सरकार के द्वारा संघ के लोगों के बारे में जानकारी जुटाने के आदेश देना काफी गंभीर मुद्दा है. बीजेपी और संघ दोनों इस मुद्दे को काफी गंभीरता से ले रहे हैं. पासवान ने कहा कि संघ के अलावा और भी दूसरे संगठनों की जांच कराई जा रही है तो कोई बात नहीं, लेकिन अगर सिर्फ संघ और हिंदू संगठनों से जुड़े हुए लोगो के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है तो हमारे लिए काफी गंभीर मुद्दा है.

बीजेपी नेता ने कहा कि हम इस बारे में पता कर रहे हैं कि संघ और हिंदू संगठनों की जांच का आदेश मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की रजामंदी से किया गया है या फिर अधिकारी ने अपने स्तर पर किया है. हमें उम्मीद है कि नीतीश कुमार को इस बारे में कुछ पता नहीं होगा. बिहार सरकार में बराबर के भागीदार है, ऐसे में हम इस तरह की किसी भी हरकत को बर्दाश्त नहीं करेंगे.

 पटना में स्पेशल ब्रांच के एसपी ने डिप्टी एसपी को आदेश दिया है कि आरएसएस और हिंदू संगठनों के बारे में जानकारी जुटाने को कहा है. एसपी ने अपने लिखित आदेश में इन संगठनों के पदाधिकारियों का पूरा पता, फोन और व्यवसाय का विवरण मांगा है. अभी कोई भी बड़े पुलिस के अधिकारी इस पर बात करने से कतरा रहे है. भारतीय जनता पार्टी के नेताओ के गले का पानी सूखा हुआ है जैसे ही नितीश ने अपने ही सहयोगी पार्टी से जुड़े लोगो का पूरा ब्यौरा माँगा बीजेपी के कई नेताओ ने उनका इस मामले में विरोध भी किया है. हालाँकि यह ब्यौरा क्यों निकाला जा रहा है इसके बारे में अभी कोई जानकारी सामने नहीं आई है। 


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved