fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

नितिन गडकरी के निर्वाचन पर उठे सवाल, चुनाव आयोग के खिलाफ कोर्ट में याचिका दायर

Petition-filed-against-Nitin-Gadkari's-mandate,-filed-in-court-against-the-Election-Commission
(image credits: Zee News)

लोकसभा चुनाव 2019 को बीते अब दो महीने होने वाले है और अभी तक भाजपा के सांसदों पर चुनाव में गड़बड़ी कर जीत हासिल करने के आरोप लगातार लग रहे है। EVM में हुई गड़बड़ी और बड़े वोटो के अंतर से हारने के कारण अब कई प्रत्याशियों ने भाजपा सांसदों के खिलाफ मोर्चा खोलना शुरू कर दिया है।

Advertisement

हाल ही में एक खबर उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले की मछली शहर संसदीय सीट से भी आई थी जिसमे बहुजन समाज पार्टी प्रत्याशी त्रिभुवन राम ने हाईकोर्ट में चुनाव याचिका दाखिल कर भारतीय जनता पार्टी के सांसद वी पी सिंह सरोज के निर्वाचन को रद्द किए जाने की मांग की है।

याचिका में आरोप लगाया है कि 12 मई 2019 को हुए मतदान में कुल जितने वोट पड़े थे, उससे 4 हजार 128 से ज्यादा वोटों की गिनती अधिकारियों ने मतगणना के दौरान कराई है. इस तरह से मतगणना भाजपा के दिग्गज नेता और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी में गड़बड़ी करके उन्हें हराया गया है

वही अब दूसरी बड़ी खबर भाजपा के दिग्गज नेता और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को लेकर आ रही है आपको बता दे की कांग्रेस नेता नाना पटोले ने लोकसभा चुनाव में केंद्रीय मंत्री और भाजपा सांसद नितिन गडकरी की जीत को चुनौती दी है. उन्होंने इस संबंध में शुक्रवार को बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका दायर की है. इसमें नाना पटोले ने आरोप लगाया कि नागपुर में हुए लोकसभा चुनाव की प्रक्रिया अवैध है. नितिन गडकरी महाराष्ट्र की इसी लोकसभा सीट से सांसद हैं. गडकरी ने 2019 के आम चुनाव में पटोले को 1.97 लाख मतों के अंतर से शिकस्त दी थी।

एनडीटीवी के मुताबिक नाना पटोले के वकील वैभव जगतप ने कहा, ‘हाई कोर्ट की नागपुर पीठ के समक्ष एक याचिका दायर की गई है. इसमें नितिन गडकरी के चुनाव को चुनौती दी गई है.’ वहीं, कांग्रेस नेता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आरोप लगाया कि नागपुर के चुनाव में अधिकारियों ने चुनावी प्रक्रियाओं का पालन नहीं किया. चुनाव के दौरान स्ट्रॉन्गरूम की सुरक्षा पर सवाल खड़े किये है उन्होंने चुनाव आयोग के अधिकारियों पर स्ट्रॉन्गरूम की सुरक्षा को लेकर सवाल उठाये है।


कोर्ट में याचिका दायर करने वाले नाना पटोले ने कहा, ‘यह याचिका चुनाव आयोग, मुख्य चुनाव अधिकारियों और नितिन गडकरी के खिलाफ दायर की गई है.’ पटोले के वकील वैभव जगताप ने बताया, ‘उच्च न्यायालय की नागपुर पीठ के समक्ष शुक्रवार को याचिका दाखिल करके गडकरी के निर्वाचन को चुनौती दी गई है।’ गडकरी के निर्वाचन को रद्द करने की भी मांग याचिका में की गई है। कांग्रेस नेता ने संवाददाताओं से कहा कि चुनाव प्रशासन ने तय प्रक्रियाओं का पालन नहीं किया गया। अब देखना है की बॉम्बे हाई कोर्ट इस याचिका पर किस तरह से सुनवाई करता है या यह याचिका कोर्ट के द्वारा ख़ारिज कर दी जाएगी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved