fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

अमेठी को लेकर राहुल गाँधी ने दिया बयान, कही महत्वपूर्ण बातें

Rahul-Gandhi's-statement-about-Amethi,-said-important-things
(Image credits: Hindustan Times)

हाल ही में कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफे देने वाले राहुल गाँधी ने उनका गढ़ माने वाले क्षेत्र अमेठी के लोगो के लिए एक बयान दिया है। राहुल गांधी ने बुधवार (10 जुलाई) को कहा कि, अमेठी उनका घर-परिवार है और वह इसे कभी नहीं छोड़ेंगे। अमेठी लोकसभा सीट से लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद यहां पहुंचे राहुल गाँधी ने पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ समीक्षा बैठक में कहा कि अमेठी उनका घर है और वह इसका दामन कभी नहीं छोड़ेंगे।

Advertisement

बैठक में शामिल युवक कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष नदीम अशरफ जायसी के मुताबिक राहुल ने कहा, ‘अमेठी मेरा घर-परिवार है। मैं अमेठी नहीं छोडूंगा। मैं और (कांग्रेस महासचिव) प्रियंका गांधी यहां आते रहेंगे।’ बकौल जायसी के अनुसार राहुल ने कहा , ‘अमेठी का विकास बाधित नहीं होने दिया जाएगा। मैं वायनाड का सांसद हूं मगर अमेठी से हमारा तीन पीढ़ियों का रिश्ता है। मैं अमेठी की लड़ाई दिल्ली में लड़ता रहूंगा।’

बैठक में आये प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य डॉक्टर नरेंद्र मिश्र के मुताबिक राहुल ने बैठक में कहा, ‘‘लोकसभा चुनाव में कार्यकर्ताओं ने काम किया पर स्थानीय नेता जनता से दूर रहे। इसी वजह से यहां उनकी हार हुई। बहरहाल, चुनाव में हार और जीत होती रहती है। इससे घबराने की जरूरत नहीं है। आप लोग जनता से जुड़ें, सब ठीक हो जाएगा।’’

कांग्रेस कमेटी के सदस्य मिश्र के मुताबिक पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने पार्टी पदाधिकारियों के साथ गहन मंथन किया और कार्यकर्ताओं की बातें बेहद ध्यान से सुना। उन्होंने बताया कि, कांग्रेस के जिला स्तर से लेकर बूथ स्तर तक के कार्यकर्ताओं ने अपनी बात राहुल के सामने रखी। साथ ही अधिकतर कार्यकर्ताओ ने संगठन की कमजोरी और प्रशासन द्वारा धांधली कराए जाने की भी बात कही। वहीं दूसरी ओर कई नेताओं ने कांग्रेस सेवादल, युवक कांग्रेस, महिला कांग्रेस, एनएसयूआई सहित कांग्रेस के अनुषंगिक संगठनों की घोर उपेक्षा को भी चुनाव में मिली हार का बड़ा कारण बताया।

कांग्रेस नेता राहुल गाँधी की इस समीक्षा बैठक में जिला कांग्रेस कमेटी, कांग्रेस के सभी अनुषंगिक संगठनों के पदाधिकारी, पार्टी की सभी ब्लॉक तथा बूथ इकाइयों के पदाधिकारी भी शामिल हुए। लगभग तीन घंटे चलने वाली इस बैठक को महज 50 मिनट में समाप्त करने के बाद राहुल रायबरेली जिले के छतोह ब्लॉक स्थित दो गांवों का दौरा करने के लिये रवाना हो गए।


राहुल के अमेठी दौरे के दौरान राहुल गांधी जब एक चौराहे पर रुके तो कुछ समर्थक उनके पास आ गए। इस दौरान एक नौजवान दुकानदार उनके पास आया और उन्हें अपने हाथों से जलेबी खिलाई। इसके बाद उनके समर्थकों ने उनके साथ फोटो भी खिंचवाई।

बता दें कि अमेठी पीढ़ियो से गांधी नेहरु परिवार का गढ़ माना जाता रहा है। लेकिन इस बार के लोकसभा चुनावों में राहुल गाँधी अमेठी में भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी से जीतने में कामयाब नहीं हो सके।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी द्वारा अमेठी में लोगो के साथ इस प्रकार मेलजोल से शायद कांग्रेस का कुछ लोगो में दुबारा विश्वास जाग सके। अगर देखा जाये तो देश में मौजूदा सरकार के खिलाफ एक बड़ा विपक्ष रहने की दरकार है। जो सरकार द्वारा उठाये गए गलत कदमो की आलोचना करके उन्हें जवाबदेह बनाने में सफल हो सके।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved